चूरू में रिश्ते हुए तार-तार, दो सगे देवरों ने किया भाभी से सामूहिक दुष्कर्म

उसने अपनी भाभी को बदनाम करने की धमकी देकर उसके साथ दुष्कर्म किया. इसके बाद जब भी दोनों को जब भी मौका मिला उन्होंने अपनी भाभी के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया.

चूरू के महिला थाने में गैंग रेप के दो अलग-अलग मामले दर्ज हुए हैं. एक तरफ जहां रिश्तों की मर्यादा को तार-तार करते हुए पति के ही दो सगे भाइयों ने अपनी भाभी के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया. वहीं दूसरे मामले में सीआरपीएफ के एक जवान की पत्नी को गैंग रेप का शिकार बनाया गया. दूसरे मामले में पीड़िता की हालत बिगड़ने पर उसे गंभीर हालत में ​चूरू के राजकीय भरतिया अस्पताल भर्ती कराया गया है. दोनों ही मामलों में पुलिस ने मामले दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है.

पुलिस के अनुसार रामगढ़ शेखावाटी इलाके की एक महिला को उसके दो सगे देवरों रफीक और मुबारिक ने अपनी हवस का शिकार बना डाला. दोनों आरोपियों ने दुष्कर्म की वारदात को उस वक्त अंजाम दिया जबकि उसका पति और ससुर काम से घर के बाहर गये थे. आरोपी रफीक ने महिला को अकेला पाकर उससे दुष्कर्म किया और फिर मुबारिक भी अपने भाई के इस घिनौने कृत्य में शामिल हो गया. उसने अपनी भाभी को बदनाम करने की धमकी देकर उसके साथ दुष्कर्म किया. इसके बाद जब भी दोनों को जब भी मौका मिला उन्होंने अपनी भाभी के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया.

राजीनामे के बहाने बुलाया और सामूहिक दुष्कर्म किया
वहीं सीआरपीएफ के जवान की पत्नी को राजीनामा करने के नाम पर बुलाकर सामूहिक दुष्कर्म किया गया. बाद में वीडियो क्लिप बनाकर वायरल करने की धमकी दी गई. पीड़िता ने पुलिस को बताया कि उसके भाई के खिलाफ हुए मामले को लेकर राजीनामे का झांसा देकर आरोपी धोधलिया निवासी ओमप्रकाश जाट व अजीतसर निवासी बाबूलाल जाट ने उसे 16 जून को चूरू के पंखा सर्किल पर बुलाया. वहां आरोपियों ने उसे वैन में बैठा लिया और पीपराली जोहड़ी पर वैन में उसके साथ दुष्कर्म किया और वीडियो क्लिप बना ली. 21 जून को विडियो क्लिप वायरल करने की धमकी देकर उसे फिर सीकर बुलाया. वहां फिर दोनों ने उसके साथ गंदा काम किया.

Facebook Comments