भाकियू ने गन्ना भुगतान को लेकर दिया धरना

भारतीय किसान यूनियन ने गन्ना बकाया भुगतान को लेकर धरना प्रदर्शन किया। देर शाम तक मिल प्रबंधन और किसानों के बीच वार्ता सफल नहीं हो सकी, लिहाजा किसानों ने भुगतान होने तक धरना प्रदर्शन जारी रखने का ऐलान किया है।
रानीनांगल स्थित त्रिवेणी चीनी मिल पर भाकियू ने मंगलवार को गन्ने का बकाया भुगतान करने को लेकर धरना प्रदर्शन किया। चीनी मिल गेट पर दरी बिछाकर धरने पर बैठे भाकियू नेताओं ने कहा कि किसानों को पिछले वर्ष का गन्ने का बकाया भुगतान नहीं किया गया। इसकी वजह से किसान आर्थिक संकट से जूझ रहा है। धान की फसल पालने के साथ ही घर खर्च उठाने के लिए भी दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है। इस बीच किसानों ने मिल प्रबंधन के खिलाफ भी जमकर नारेबाजी की।
जीएम केन यशराज सिंह और जीएम वित्त एमके माहेश्वरी ने धरना स्थल पर पहंुचकर किसानों से वार्ता की। उन्होंने स्टाक में रखी चीनी की बिक्री के बाद भुगतान का आश्वासन दिया, लेकिन किसान रजामंद नहीं हुए। उन्होंने भुगतान प्रारंभ होने तक मिल गेट पर धरना प्रदर्शन जारी रखने का ऐलान कर दिया। देर शाम तक किसान चीनी मिले पर डटे थे। इसमें तहसील अध्यक्ष चैधरी राजेंद्र सिंह, घनेंद्र शर्मा, अयूब अली, रोशन जहां, सरदार गुर्जर ंिसह, मंशाराम यादव, पंडित आशुतोष कुमार, ब्रज पाल सिंह, सुखवीर सिंह, रामवीर सिंह, शुभम चैधरी, अभय सिंह, महेंद्र सिंह, हरकेश सिंह, चरन सिंह, प्रीतम सिंह, सेवाराम आदि थे।
Facebook Comments