बॉलीवुड की सबसे टॉप हिरोइन, पैसों के लिए भारत के सबसे बड़े दुश्मन दाऊद के साथ बनाए संबंध

इसे गन की ताकत कहें या ‘गोल्ड’ की ताकत। अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम की कोई ऐसी महफिल नहीं रही, जिसमें फिल्मी सितारे ठुमके लगाते न मिले हों।

कई की तस्वीरों के महफिल से उड़कर बाहर आने पर बवाल मच चुका है। कई सितारों की दाऊद से बातचीत की रिकार्डिंग भी लीक हो चुकी है। डॉन की ताकत ही नहीं उसकी रंगीनमिजाजी से जुड़े कई किस्से चर्चित हैं।

कहते हैं कि बॉलीवुड की किसी फिल्म में कोई हीरोइन दाऊद को भा जाती थी तो वह तड़प उठता था। फिर दुबई या सात समंदर पार अन्य किसी आलीशान ठिकाने पर सजने वाली महफिल में उस हीरोइन को बुलवाने की जिद ठान लेता। इसके लिए चाहे मुंबई के अपने शार्गिदों से दबाव डलवाना पड़े या फिर पैसा फेंकना। दाऊद किसी से पीछे नहीं हटता था।

राम तेरी गंगा मैली फिल्म की बिंदास अदाकारा मंदाकिनी नजीर हैं। बॉलीवुड में उसके कई ऐसे शुभचिंतक एक्टर और ऐक्ट्रेस रहे, जो खुद इस काम को अपने सिर पर ले लेते थे। वजह कि दाऊद उन्हें रसूख के दम पर बुरे वक्त में भी निर्माताओं से फिल्में दिलवा देता था। आज बात करेंगे दाऊद की चर्चित गर्लफ्रैंड के बारे में।

कौन है मेरठ वाली गर्लफ्रेंड :

दिल्ली के वरिष्ठ पत्रकार विवेक शुक्ला ने दाऊद की इस गर्लफ्रैंड के बारे में जानकारी जुटाकर कुछ अनछुए पहलुओं पर रोशनी डाली थी। उन्होंने अपनी एक रिपोर्ट में लिखा है कि- मेरठ में साकेत और गोल मार्केट इलाकों में अब भी आपको पुराने लोग मिल जाएंगे जो बता देंगे कि किस तरह से शहर की खूबसूरत कन्या मंदाकिनी यहां की सड़कों पर तेज रफ्तार से साइकिल चलाया करती थी अपनी सहेलियों के साथ। उसका परिवार खाटी मेरठ वाला है। मंदाकिनी का परिवार ईसाई धर्म को मानता है। उसका सरनेम जोसेफ है।

सिर्फ 16 साल में बन गई हीरोइन :

विवेक शुक्ला लिखते हैं- मेरठ वालों को तब बहुत हैरानी हुई थी जब राज कपूर ने अपनी फिल्म राम तेरी गंगा मैली में उसे बतौर नायिका के रूप में रखा था। ये 1985 की बातें है। उन दिनों उसकी उम्र बमुश्किल से 16 साल रही होगी। महत्वाकांक्षी मंदाकिनी मेरठ के वरिष्ठ पत्रकार ओ.पी. सक्सेना ने बताया कि मंदाकिनी बेहद महत्वांकाक्षी किस्म की लड़की थी। मंदाकिनी की पहली फिल्म जब रीलिज हुई थी तब ये लेखक भी मेरठ में एक अखबार में काम कर रहा था। तब मंदाकिनी को सिनेमाघरों में देखने के लिए साकेत,शर्मा नगर, डिफेंस कालोनी, थापर नगर से लेकर आसपास के शहरों जैसे दौराला और मोदीपुरम तक के लोग देखने जाते थे। शायद वह मेरठ के पहली लड़की थी जिसने फिल्मों में काम करना शुरू किया था।

बीवी या रखैल, पड़ा रहा पर्दा :

मंदाकिनी दाऊद की पत्नी रही या रखैल। इसको लेकर खूब चर्चा होती रही। हालांकि बाद में मंदाकिनी के बारे में खबरें आने लगीं कि वह दाऊद इब्राहिम की प्रेमिका है। कुछ उसे उसकी पत्नी भी बताने लगे। कुछ कहने वाले कहते रहे कि वह दाऊद की रखैल बनकर रहती है। सच्चाई क्या है, इसका खुलासा तो दाऊद या मंदाकिनी ही कर सकते हैं। पर इनके संबंध तो जगजाहिर थे। इनमें मधुर संबंध भी थे।

इन खबरों को सुनकर मेरठ वाले जरूर सकते में आ गए थे कि उनके शहर की मंदाकिनी दाऊद जैसे खूंखार देश द्रोही की रखैल बन गई। दुबई में रही कहते हैं कि मंदाकिनी कई सालों तक दाऊद के साथ दुबई में रही भी। बाद में उसने एक तिब्बत मूल के डाक्टर के साथ शादी कर ली थी। उसका नाम डा. के. रिपचो है। अब वह दक्षिण भारत के किसी शहर में रहती है मीडिया की नजरों से दूर।

Facebook Comments