BSC की पढ़ाई के लिए जो इस लड़की ने किया वो हर कोई नहीं कर सकता, कहानी सुनकर आ जाएगा रोना

21 साल की हनान हामिद केरल के थोड़ुपूजहा के एक प्राइवेट कॉलेज में पढ़ती है। जिस उम्र में लोग अपने करियर को लेकर सीरियस नहीं होते हैं, उसी उम्र में वह कॉलेज के बाद मछली बेचती है, ताकी खुद का पेट भर सके । रोज कॉलेज के बाद एर्नाकुलम जाती है और वहां जाकर मछलियां बेचने का काम करती है।

मछली बेचकर अपने जीवन का गुजारा कर रही एक 21 साल की हनान की दिल छू लेने वाली कहानी पढ़कर कुछ लोगों ने तारीफ की तो वहीं इन्हें ट्रोल करने वालों की भी कमी नहीं थी। लोगों ने बेवजह इस मासूम को ट्रोल करना शुरू कर दिया। वह मछली बेचकर अपना गुजारा करती है। हनान मछली बेचने का काम अपने घर को चलाने के लिए करती है। उसकी मां बीमार रहती है। उसके पिता और मां अलग हो चुके हैं। ऐसे में उसे मां की देखभाल और परिवार चलाने के लिए ऐसा करना पड़ता है। बता दें कि हनान क्लास 7 से ही मछली बेचने का काम कर रही है। वह रोज शाम 5 बजे मछली मार्केट पहुंच जाती है।

उसकी कहानी पिछले दिनों सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो गई थी, जिसे कई जाने माने एक्टर एक्ट्रेस ने शेयर किया था। हनान की प्रेरणादायक कहानी को एक्टर्स के अलावा राजनेताओं तक ने भी शेयर किया था। जहां हर कोई हनान की लगन की तारीफ कर रहे थे, वहीं कुछ ने हनान को ट्रोल करना शुरू कर दिया। हनान की कहानी जब सोशल मीडिया पर वायरल होने लगी तो लोगों ने इस कहानी को झूठा बता दिया। फर्जी कहानी बताकर लोग इसे ट्रोल करने लगे।

हनान के कॉलेज प्रिंसिपल और पड़ोसियों को उनका साथ देने के लिए आना पड़ा। केंद्रीय मंत्री अल्फोंस कन्नाथनम ने भी ट्रोल करने वालों पर हमला बोला है। उन्होंने अपने फेसबुक अकाउंट के जरिए नाराजगी जाहिर की है। कन्नाथनम ने लिखा, ‘हनान पर हमला बंद करो। मैं शर्मिंदा हूं। ये लड़की अपनी बिखरी जिंदगी को समेटने की कोशिश कर रही है। तुम दरिंदे हो। ट्रोल्स से आहत हनान ने लोगों से अपील की है कि उन्हें अकेला छोड़ दें।

खुद की कहानी को फर्जी सुनकर हनान भी आहत है। हनान ने हाथ जोड़कर सभी से विनती की और कहा, ‘मुझे किसी की मदद नहीं चाहिए। कृपया कर के मुझे अकेला छोड़ दें और मुझे कोई भी छोटा काम करने दें ताकि मेरी जिंदगी चल सके। हनान ने कहा कि लोगों ने उनपर आरोप लगाए कि वो फिल्म प्रमोशन के लिए ऐसा कर रही हैं, लेकिन ऐसा नहीं है। उनके पास कमाई का और कोई जरिया नहीं है। मेरा मकसद केवल अपनी पढ़ाई जारी रखना और परिवार को सपोर्ट करना है। इसलिए मुझे मेरा काम करने दें।

Facebook Comments