दादा का आज जन्मदिन है पर क्या आपको पता है कि उन्होंने अपनी ही बीवी से दो बार की थी शादी..जानें क्यों

आज भारतीय टीम के सबसे हैंडसम, डैंशिंग और सक्सेसफूल कप्तानों में से एक रहे सौरव गांगुली का जन्मदिन हैं, भले ही वो आज एक क्रिकेटर को रूप में मैदान से दूर हों लेकिन वो क्रिकेट से दूर नहीं है और ना ही उनके प्रति उनके चाहने वालों की मोहब्बत में कमी हुई है। उनके क्रिकेट के अचीवमेंट के बारे में तो हर कोई जानता है लेकिन आज हम आपको उनके 46वें जन्मदिन पर उनकी लाइफ के सबसे कोमल और सबसे खूबसूरत पलों के बारे में बताते हैं, जी हां, आपने सही समझा हम बात कर रहे हैं सौरव गांगुली की लवस्टोरी की.. जो कि बिल्कुल यश चोपड़ा और करण जौहर के फिल्मों की तरह से दिल को छू लेने वाली है।

सौरव गांगुली की प्रेमकहानी पूरी फिल्मी है गांगुली की इस रील टाइप रीयल स्टोरी में हीरो-हिरोईन तो वो और उनकी पत्नी थे लेकिन हां विलेन दोनों के परिवार वाले थे। हुआ यूं सौरभ एक रईस खानदान से ताल्लुक रखते हैं लेकिन जिस लग्जरी अपार्टमेंट में वो रहते थे उसकी बाउंड्री वाल डोना के घर से जुड़ी हुई थी। मतलब यह कि डोना और सौरभ एक-दूसरे के पड़ोसी थे।

महाराजा के दिल में डोना ने बनायी जगह डोना एक बहुत अच्छी ओडिसी नृत्यांगना हैं और यही बात सौरव के घर वालों को पसंद नहीं थी, वैसे भी दोनों परिवार वालों में अपने रूतबे और स्टेटस को लेकर बहुत सारे पंगे थे लेकिन परिवार वालों के झगड़े से दूर सौरव-डोना टीनएज में ही एक-दूसरे के पक्के वाले दोस्त बन गये थे। सौरव और डोना का स्कूल अलग-अलग था इसलिए सौरव स्कूटर चलाकर और अपने घरवालों से झूठ बोलकर डोना की एक झलक पाने के लिए उनके स्कूल की छुट्टी के वक्त गेट पर पहुंच जाते थे तो डोना छुप-छुपकर सौरव के क्रिकेट मैच देखा करती थीं।

बचपन का प्यार बन गया उम्र भर का इश्क उम्र बढ़ी और दोस्ती मोहबब्त में तब्दील हो गई, वक्त बदला और सौरव देखते ही देखते क्रिकेट की दुनिया के जगमगाते सितारे बन गए लेकिन डोना की फैमिली पर इन बातों का असर नहीं हुआ और फिर आया 1996 का इंग्लैंड दौरा..जिसनें गांगुली के क्रिकेट करियर और निजी जीवन की तस्वीर बदल दी। गांगु्ली के बल्ले ने जहां इंग्लैंड में धमाका किया वहीं दूसरी ओर दौरे पर जाने के ठीक पहले सौरव ने डोना को शादी के लिए प्रपोज कर दिया। दोनों ने कोर्ट मैरज करने का फैसला कर लिया दौरे के ठीक बाद गांगुली ने साल 1996 अगस्त में डोना के साथ कोर्ट मैरज कर ली वो भी घरवालों को बिना बताए। गांगुली की हुई दो बार शादी लेकिन कहते हैं ना इश्क और मुश्क छुपाये नहीं छुपते और इस बात का पता जब दोनों के घरवालों को लगा तो बवाल तो होना ही था लेकिन आखिरकार दोनों की फैमिली ने हथियार डाल दिये लेकिन परिवार ने फैसला किया कि दोनों की शादी फिर से होगी और फरवरी 1997 में दोनों का फिर से विवाह हुआ दोंनों के परिवारवालों के सामने। आज डोना-सौरव दुनिया के लिए परफेक्ट कपल कहे जाते हैं, दोनों के प्यार के बगिया में ‘सना’ नाम का फूल भी है जो दोनों की जिंदगी है।

Read more at: https://hindi.mykhel.com/cricket/happy-birthday-read-sourav-ganguly-s-love-story-its-really-touching/articlecontent-pf12376-030235.html

Facebook Comments