अरे वाह, डीएल बनवाना हुआ और भी आसान, अब नहीं लगाने होंगे RTO के चक्कर

लर्निंग ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने या रिन्युअल के लिए जल्द ही आप दिल्ली के सभी ट्रांसपॉर्ट अथॉरिटी में ऑनलाइन अपॉइंटमेंट ले सकेंगे। फिलहाल चार अथॉरिटी दफ्तरों में ही यह सुविधा मौजूद है। अब 9 अन्य अथॉरिटी में भी यह सुविधा दो-तीन दिन में शुरू की जा सकती है। जल्द ही इस बारे में नोटिफिकेशन जारी किया जाएगा।

ट्रांसपॉर्ट डिपार्टमेंट के एक सीनियर अधिकारी के मुताबिक, ऑनलाइन अपॉइंटमेंट के बाद फीस भी डेबिट या क्रेडिट कार्ड से ऑनलाइन जमा हो सकेगी। उसके बाद टाइम स्लॉट मिल जाएगा। उस वक्त पर ट्रांसपॉर्ट अथॉरिटी जाकर लर्निंग लाइसेंस के लिए टेस्ट दिया जा सकेगा। इससे टाइम तो बचेगा, दलालों के चक्कर में भी नहीं फंसना पड़ेगा। पर्मानेंट ड्राइविंग लाइसेंस से लेकर ड्युप्लिकेट रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट (RC), वीइकल ट्रांसफर जैसी बड़ी सर्विसेज के लिए ऑनलाइन ऐप्लिकेशन सिस्टम लागू भी कर दिया गया है।

दिल्ली सरकार के ट्रांसपॉर्ट डिपार्टमेंट की 100 पर्सेंट सर्विसेज ऑनलाइन सिस्टम के दायरे में लाने के लिए एक और बड़ा कदम उठाया जा रहा है। पर्मानेंट ड्राइविंग लाइसेंस बनाने का प्रॉसेस पहले ही ऑनलाइन हो चुका है। पिछले साल दिल्ली सरकार ने ट्रांसपॉर्ट डिपार्टमेंट की 8 सर्विसेज को ऑनलाइन सिस्टम में लाने के साथ ई- ट्रांसपॉर्ट अथॉरिटी की योजना शुरू की थी और अब धीरे-धीरे ज्यादातर सर्विसेज इस सिस्टम में आ चुकी हैं।

लर्निंग ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने और लाइसेंस की समय सीमा पूरी होने के बाद रिन्यूअल का प्रॉसेस पूरी तरह से ऑनलाइन हो जाएगा। अभी जिन चार ट्रांसपॉर्ट अथॉरिटीज में ऑनलाइन प्रॉसेस चल रहा है, उनमें जनकपुरी, माल रोड, आईपी डिपो और वसंत विहार ट्रांसपॉर्ट अथॉरिटी शामिल हैं। डिपार्टमेंट के अधिकारियों का कहना है कि ऑनलाइन सिस्टम शुरू होने से पहले टाइम की भी बचत होगी और लोगों को दलालों के चक्कर में भी नहीं फंसना पड़ेगा। दिल्ली सरकार ई- ट्रांसपॉर्ट अथॉरिटी के कॉन्सेप्ट को आगे बढ़ाते हुए सभी सर्विसेज को ऑनलाइन सिस्टम के दायरे में लाने की तैयारी कर रही है।

ट्रांसपॉर्ट डिपार्टमेंट ने इस साल की शुरुआत में पायलट प्रॉजेक्ट के तौर पर जनकपुरी और वसंत विहार अथॉरिटी में 100 पर्सेंट ऑनलाइन सिस्टम लागू किया था और इन दोनों अथॉरिटी में ऑफलाइन ऐप्लिकेशन नहीं हैं। अब धीरे-धीरे बाकी अथॉरिटी भी इस लिस्ट में शामिल हो रही हैं। जल्द ही 100 पर्सेंट सर्विसेज को ऑनलाइन किया जाएगा। लोगों को ट्रांसपॉर्ट अथारिटी विजिट न करना पड़े और सारा सिस्टम ऑनलाइन हो जाएगा। ऑनलाइन सिस्टम के बाद लोगों को केवल ड्राइविंग टेस्ट और गाड़ी की फिटनेस के लिए आना होगा क्योंकि गाड़ी को दिखाना पड़ता है।

दिल्ली में अभी एक करोड़ वीइकल रजिस्टर्ड हैं और हर साल 7 लाख से ज्यादा वीइकल खरीदे जा रहे हैं। ड्राइविंग लाइसेंस के लिए अप्लाई करने का प्रॉसेस आसान बनाया गया है। इसके साथ ही वीआईपी नंबर के लिए रजिस्ट्रेशन प्रॉसेस को पूरी तरह से ऑनलाइन कर दिया गया है। हर साल दो लाख से ज्यादा वीकल ट्रांसफर केस होते हैं लेकिन बहुत कम लोग अप्लाई करते थे लेकिन अब आसानी से ट्रांसफर आफ वीकल हो सकेगा। ड्राइविंग लाइसेंस के लिए ऑनलाइन अप्लाई करें और एसबीआई मल्टी बैंकिंग सिस्टम से पेमेंट करें। उसके बाद अपनी सुविधा के मुताबिक एमएलओ में जाने के लिए ऑनलाइन स्लाट बुक करें।

इसी तरह का प्रॉसेस ट्रांसफर आफ वीइकल, ड्युप्लिकेट रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट, चेंज आफ अड्रेस, एनओसी, पेमेंट ऑफ रोड टैक्स, फिटनेस फीस, ऑनलाइन अलाटमेंट आफ फैन्सी नंबर के लिए भी होगा। ट्रांसपॉर्ट डिपार्टमेंट ने पर्मानेंट ड्राइविंग लाइसेंस पाने के लिए ऑनलाइन अपॉइन्टमेंट का सिस्टम शुरू कर दिया है और सभी 13 जोनल ट्रांसपॉर्ट अथॉरिटी में अब ऑनलाइन अपॉइन्टमेंट से ही पर्मानेंट लाइसेंस मिलने का प्रॉसेस शुरू हो गया है। जिन लोगों को ऑनलाइन अपॉइन्टमेंट हासिल करने और ऑनलाइन फीस पेमेंट करने में परेशानी होगी, उनके लिए ट्रांसपॉर्ट अथॉरिटी में हेल्प डेस्क का प्रयोग शुरू किया गया है।

Facebook Comments