एक लाख शिक्षकों की भर्ती करेगी उत्तरप्रदेश सरकार, अनिवार्य विषय होगा योग

 प्रधानमंत्री के उप्र दौरे के बीच योगी सरकार ने प्रदेश के युवाओं को बड़ी खुशखबरी दी है।

यूपी सरकार ने योग को अनिवार्य विषय में शामिल करने का फैसला किया है। शिक्षा विभाग की तरफ से इसका एलान किया गया।प्रदेश सरकार पहले चरण में एक लाख योग टीचरों की भर्ती भी करेगी।

बीजेपी कार्यकर्ताओं को जब जानकारी मिली कि शिक्षा विभाग ने योग को अनिवार्य विषय में शामिल कर लिया है तो उनमें ख़ुशी की लहर दौड़ गई।

दरअसल बीजेपी के जिलाध्यक्ष सुरेन्द्र मैथानी कई बार इस सम्बन्ध मुख्यमंत्री से मुलाकात भी कर चुके हैं। उन्होंने कहा योग को अनिवार्य विषय में शामिल कर मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने एतिहासिक कदम उठाया है।

पिछले तीन वर्षो से भारतीय जनता पार्टी नगर कमेटी और उत्तर प्रदेश योग एसोसिएशन योग को अनिवार्य विषय बनाने बनाने की मांग कर रहा था। शिक्षा विभाग ने योग को अनिवार्य विषय में शामिल करने की घोषणा के बाद बीजेपी कार्यकर्ताओं ने मिठाई बांटकर खुशी मनाई।

सुरेन्द्र मैथानी के मुताबिक सरकार ने जीवन में योग के महत्व को जन-जन तक पहुंचाकर लाभ दिलाने के लिए बहुत ही अच्छा निर्णय दिया है। सरकार एक लाख योग टीचरों की भर्ती करेगी जिससे बड़े पैमाने पर रोजगार मिलेगा।

आज के स्पर्धा के दौर में हर शख्स तनाव महसूस करता है, जब से लोगों ने योग को अपनाया है, करोड़ों लोगो को इसका लाभ भी मिला है। सरकार ने योग एसोसिएशन को एक साल की ट्रेनिंग देकर रेफरी का डिप्लोमा देने के लिए भी अधिकृत किया है।

Facebook Comments