गंगा..गंगा करने वाली मोदी सरकार को ही नहीं पता कितनी साफ हुई मैली गंगा…

सरकार ने इस परियोजना को ‘नमामि गंगे’ नाम दिया था. और फ़िलहाल गंगा की सफाई आदि की जिम्मेदारी केंद्र में उमा भारती और केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी के पास हैं. 

देश की मोदी सरकार ने अपने 4 साल पूरे कर लिए हैं. और उसने इन चार सालों में क्या किया ? इसे लेकर पिछले एक महीन से बहस जारी हैं. नौकरी, व्यापार, गरीबी, बेरोजगारी, नोटबंदी और आज से ठीक  एक साल पहले लागू किए गई जीएसटी को लेकर भी जनता सर्कार से जवाब मांग रही हैं. वहीं इस सूची में अब बहरत की सबसे पवित्र नदी गंगा को लेकर भी मुद्दा उठा हैं. जहां सरकार से पूछा गया कि अब तक गंगा की कितने सफाई हो चुकी हैं. लेकिन सरकार के पास फ़िलहाल इस सवाल का कोई जवाब मौजूद नहीं हैं.

भारतीय जनता पार्टी ने सत्ता में आने के बाद कई तरह की योजनाएं बनाई थी. जहां स्वच्छ भारत अभियान और इसके बाद गंगा की सफाई को लेकर भी जोर-शोर से अभियान चलाया गया था. सरकार ने इस परियोजना को ‘नमामि गंगे’ नाम दिया था. और फ़िलहाल गंगा की सफाई आदि की जिम्मेदारी केंद्र में उमा भारती और केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी के पास हैं.

हाल ही में जब गंगा की सफाई को लेकर आरटीआई में अर्जी दायर की गई तो इसके बदले में सरकार कह रही है कि इस बात की जानकारी नहीं है कि अभी तक पवित्र नदी गंगा की कितनी साफ हुई हैं.

Facebook Comments