Lifestyle : लोगों को फंसाने के लिए पैरों में घूघरू-साड़ी बांध नाचता था डॉक्टर,घिनौनी करतूत का ऐसे हुआ खुलासा

एक और झोलाछाप ड़ॉक्टर की घिनौनी करतूत लोगों के सामने आई हैं। बता दें यह मामला पंजाब के लुधियाना शहर का हैं। झोलाछाप डॉक्टर दिनेश सिंह गिल उर्फ दिनेश शाह कादरी लोगों को इलाज करने का झांसा देकर उनसे मोटी रकम वसूल करता था। आरोपी ने गुरु क्लीनिक के नाम से अस्पताल खोले थे। उसने बरनाला के छन्ना इलाके में डेरा बनाया हुआ था। आरोपी पर बरनाला की विवाहिता को उसके पति की पीने की लत छुड़ाने का झांसा देकर कई बार उसकी इज्जत लूटी। इसके अलावा उसपर एक महिला की बच्चेदानी निकालने का आरोप भी है। पुलिस ने आरोपी को थाना घनौला में महिला की शिकायत पर गंदे काम के आरोप में गिरफ्तार किया था।

बरनाला पुलिस ने तीन लोगों पर 15 लाख की धोखाधड़ी, जानलेवा हमला करने के आरोप मे गिरफ्तार किया। पुलिस ने इस मामले में आरोपी की पत्नी डॉ. रूपिंदर कौर को भी नामजद किया है। जोकि पुलिस गिरफ्त से बाहर है। शनिवार को सब इंस्पेक्टर बलजीत सिंह व सब इंस्पेक्टर संदीप कौर की टीम ने उसके क्लीनिक पर रेड कर दस्तावेज, मरीजों का रिकॉर्ड व दवाइयां जब्त की। टीम में बरनाला से आई सरकारी ड़ॉक्टर राहुल कुमार के अलावा लुधियाना एसएमओ की टीम भी शामिल थी। पुलिस ने आरोपी को कोर्ट में पेश कर 3 दिन के पुलिस रिमांड पर लिया है।

पुलिस ने जांच की तो आरोपी और उसकी पत्नी कोई भी मेडिकल डिग्री पेश नहीं कर सके। आरोपी ने बताया कि वह 12वीं पास है। उन्होंने नर्सिंग होम के लेटर पैड और विजिटिंग कार्ड पर कई डिग्रियां लिखवाई हुई है। लोगों ने बताया कि आरोपी पहले लोगों को डेरे पर बुलाता थ। हर गुरुवार को वह चौकी लगाकर लोगों को प्रभावित करने के लिए घुंघरू बांध कर नाचता भी था। बाद में इलाज करवाने के लिए अस्पताल में बुलाता था।

पुलिस को पीडिता ने बताया था कि वह उसका पति प्राइवेट नौकरी करता है। उसके चार लड़कियां व एक लड़का है। उसका पति पीने का आदी था। वह हर गुरुवार को उक्त आरोपी के डेरे पर माथा टेकने जाती थी। उसकी जान पहचान आरोपी दिनेश शाह कादरी से हुई। आरोपी से अपने पति की पीने की छुड़ाने की बात कही, उसके कहने पर वह पति को लेकर डेरे पर आई। बाद में उसका पति काम से चला गया। रात में वह डेरे पर रूक गई। तभी आरोपी ने कहा ये पवित्र जल पी लो। जल पीने के बाद ही वह बेहोश हो गई। जब उसे होश आया तो पता चला कि आरोपी उसके साथ जबरदस्ती कर चुका है। आरोपी बाद में उसे धमका कर अपने क्लीनिक पर बुला कर गलत काम करता था। दुखी होकर उसने अपने पति को डॉ. की करतूत के बारे में बताया और पुलिस को सूचित किया।

बरनाला के नाजर सिंह ने बताया कि वह आरोपी के डेरे पर जाता था। उसने पत्नी के बीमार होने की बात कही तो आरोपी ने उसकी पत्नी अमरजीत कौर को अपने पास बुलाया और उसे गुरु नर्सिंग होम में इलाज के लिए भेज दिया। वहां पर उसका ऑपरेशन कर दिया गया और उसकी कोई रिपोर्ट या टेस्टों की रिपोर्ट भी नहीं दी।

बरनाला के मेजर सिंह ने पुलिस को बताया कि उसकी पत्नी हरजीत कौर बीमार थी। आरोपी ने उसकी पत्नी का इलाज करने का भरोसा दिया। आरोपी ने उसकी पत्नी का ऑपरेशन दुगरी में स्थित अपने नर्सिंग होम में करवाने को कहा और उससे अलग अलग किश्तों में मोटी रकम ले ली। आरोपी ने ऑपरेशन कर उसकी पत्नी की बच्चेदानी रिमूव कर दी। जब उससे हरजीत कोर के ऑपरेशन के टेस्ट व रिपोर्ट मांगी गई तो उसने देने से इनकार कर दिया।

संदीप कौर, सब इंस्पेक्टर, सीआईए बरनाला पुलिस ने मामले की जानकारी देते हुए बताया कि स्पेशल इंवेस्टीगेशन टीम पूरे मामले की जांच कर रही है। डॉक्टरों की टीम ने दोनों क्लीनिक पर रेड की है। कई दस्तावेज और दवाइयां कब्जे में ली हैं। कोई भी डिग्री नहीं मिली। आरोपी को 3 दिन के पुलिस रिमांड पर लेकर पूछताछ की जा रही है। आरोपी की पत्नी को गिरफ्तार करने को कई जगह रेड की गई है। उसकी गिरफ्तारी के बाद ही उसकी डिग्रियों की जांच जाएगी।

Facebook Comments