कांवड़ियों पर हेलीकाप्टर से बरसाए फूल

सावन कृष्ण त्रयोदशी के पर्व पर अलग-अलग जनपदों के प्रसिद्ध शिवालयों में जलाभिषेक के लिए अयोध्या आकर सरयू जल भरने वाले कांवड़िया श्रद्धालुओं पर इस साल प्रदेश सरकार खास मेहरबान होती दिखाई दी। सीएम योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर सोमवार को हेलीकाप्टर से कांवड़िया श्रद्धालुओं पर पुष्पवर्षा की गई। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार शासन की ओर से भेजा गया हेलीकाप्टर अभी दो दिन फैजाबाद में ही रोका जाएगा और मंगलवार एवं बुधवार को भी अयोध्या होकर बस्ती-अम्बेडकरनगर व दूसरे जनपदों की ओर जाने वाले पैदल कांवड़ियों पर पुष्पवर्षा की जाएगी।

इससे पहले रविवार की देर रात अचानक शासन से आई सूचना के बाद अधिकारियों ने मध्यरात्रि तक माथापच्ची कर फैजाबाद हवाई पट्टी पर प्राइवेट हेलीकाप्टर को उतरने की अनुमति का पत्र शासन को प्रेषित कर दिया। जिला प्रशासन की अनुमति के बाद सोमवार को हवाई पट्टी पर पूर्वाह्न करीब साढ़े 11 बजे हेलीकाप्टर उतरा। इसके बाद जिला प्रशासन के अफसरों ने हेलीकाप्टर पर फूलों से भरा बैग रखवाया और फिर उड़कर हाईवे के ऊपर से होते हुए बस्ती जनपद के बाबा भदश्वरनाथ धाम से होकर अम्बेडकरनगर के टांडा तक गए। वहां से पुन: लौटकर अधिकारियों ने अयोध्या शहर का दो-तीन चक्कर लगाकर हवाई सर्वेक्षण किया। इसके बाद अपने गंतव्य पर वापस लौट गए।

मिली जानकारी के अनुसार हेलीकाप्टर पर कमिश्नर मनोज कुमार मिश्र, डीआईजी ओंकार सिंह, एसएसपी डॉ. मनोज कुमार, मुख्य विकास अधिकारी अक्षय त्रिपाठी एवं एसपी सिटी अनिल कुमार सिंह सिसोदिया सवार थे। कांवड़ियों पर पुष्पवर्षा को लेकर अफसरों की ओर से कोई अधिकृत बयान नहीं जारी किया गया और न ही कोई अधिकारी इस बारे में कुछ बताने को ही तैयार था। इससे पहले हवाई पट्टी पर पहुंचे हेलीकाप्टर को लेकर कई मीडिया कर्मी व छायाकार भी पहुंच गए लेकिन एसएसपी डॉ. कुमार ने उन्हें फोटोग्राफी से मना किया। एसएसपी डॉ. कुमार ने मीडिया को हवाई पट्टी के परिसर से बाहर भी करा दिया। उन्होंने कहा कि कांवरियों की भीड़ के बीच सुरक्षा की दृष्टि से हवाई सर्वेक्षण होना है, इसीलिए यहां हेलीकाप्टर आया है।

उधर नौ अगस्त को पड़ने वाले त्रयोदशी तिथि के अवसर पर भगवान भोलेनाथ का जलाभिषेक करने के लिए अयोध्या में सरयू जल भरने कांवड़ियों का आगमन शुरू हो चुका है। लगातार यहां कांवरियों की भीड़ बढ़ती ही जा रही है। कांवरियों की भीड़ को ध्यान में रखते हुए सोमवार की रात्रि आठ बजे से नौ अगस्त को भीड़ की स्थिति के अनुसार हाइवे पर डायवर्जन व्यवस्था लागू कर दी गई है। इस व्यवस्था के अन्तर्गत गोरखपुर से अयोध्या होकर लखनऊ जाने वाले सवारी एवं भारी वाहनों को बस्ती-गोण्डा होकर भेजा जा रहा है। इसी तरह से लखनऊ से अयोध्या होकर गोरखपुर जाने वाले सवारी एवं भारी वाहनों को बाराबंकी-गोण्डा होकर भेजा जा रहा है।

Facebook Comments