जिया हो बिहार के लाला: इस शख्स ने रुस में लहराया बिहार का परचम, बना सांसद

कुर्स्क स्टेट मेडिकल यूनिवर्सिटी से अपनी पढ़ाई पूरी करने के बाद अभय सिंह एक पंजीकृत डॉक्टर के रूप में काम करने के लिए पटना वापस आ गए।

कहा जाता है कि बिहारी हर जगह अपनी पैठ बना ही लेते हैं। ऐसा ही एक वाकया और सामने आया है। बिहार के रहने वाले अभय कुमार रुस के कुर्स्क शहर में सांसद हैं और बिजनेसमैन भी हैं। आपको बता दें कि उन्होंने रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की यूनाइटेड रशिया पार्टी की टिकट पर प्रांतीय चुनाव जीता था। पिछले साल अप्रैल में अभय सिंह आधिकारिक तौर पर यूनाइटेड रशिया पार्टी के सदस्य बने और कुछ ही समय में वो कुर्स्क शहर असेंबली में पहुंच गए।

गौरतलब है कि अभय सिंह ने पटना में लोयोला हाई स्कूल से अपनी स्कूली शिक्षा पूरी की और 1990 के दशक की शुरुआत में मेडिसिन की पढ़ाई करने के लिए कुर्स्क चले गए। कुर्स्क स्टेट मेडिकल यूनिवर्सिटी से अपनी पढ़ाई पूरी करने के बाद अभय सिंह एक पंजीकृत डॉक्टर के रूप में काम करने के लिए पटना वापस आ गए।

हालांकि वे ज्यादा दिन तक बिहार नहीं रहे और वापस चले गए। रसिया वापस जाकर उन्होंने अपना खुद का बिजनेस शुरु कर दिया। बिजनेस में सफलता मिलने के बाद, अभय सिंह ने खुद को स्थानीय मामलों में भी शामिल करना शुरु किया और स्थानीय रूसी नागरिकों से जुड़े। यहां पर दिलचस्प बात ये है कि उन्होंने इस दौरान अपना भारत कनेक्शन बनाए रखा। 2015 में अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर, उन्होंने फेसबुक पर फोटो पोस्ट कर बताया कि उन्होंने कुर्स्क में पहला अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस आयोजित किया।

Facebook Comments