National : खुले में पेशाब करते दिखे तो देना पड़ेगा 100 रुपए जुर्माना

शहर को ओडीएफ प्लस प्लस का दर्जा दिलाने की कवायद तेज हो गई है। जिसके लिए नगर निगम ने सबसे पहले खुले में पेशाब करने पर प्रतिबंध लगा दिया है। अब अगर कोई खुले में पेशाब करता हुआ पकड़ा गया तो 100 रुपए जुर्माना वसूला जाएगा। इसके अलावा और भी कई कार्य कराए जाएंगे।्र

पिछले वर्ष नगर निगम ने लंबी कोशिशों के बाद शहर को खुले में शौचमुक्त घोषित कराया था, इसके लिए नगर निगम ने शहर में सख्ती से अभियान चलाया था। खुले में शौच वाले स्थानों पर पहरेदारी की गई और रेलवे लाइनों के किनारे भी टीमें लगाकर खुले में शौच को जाने वाले खदेड़े गए। जगह-जगह शौचालय निर्माण कराए गए और पुराने जर्जर शौचालयों को आधुनिक रूप दिया गया। कई ऐसे काम भी किए गए जिससे लोग शौचालय प्रयोग के लिए जागरूक हो सकें। नगर निगम का प्रयास रंग लाया और मई माह में स्वच्छ भारत मिशन की ओर से शहर को खुले में शौच मुक्त घोषित किया गया।

पत्रिका की रिपोर्ट के अनुसारनगर आयुक्त संतोष कुमार शर्मा ने बताया कि शहर को ओडीएफ प्लस प्लस का दर्जा दिलाने के लिए शहर में पेशाबघर बनाए जाएंगे। इसके अलावा नए शौचालय बनाकर इसके लिए सोख्ता भी बनाए जाएंगे। खासतौर पर रेलवे लाइनों, पुरानी गलियों, कूड़ाघरों के पास खास निगरानी रखी जाएगी।

खुले में पेशाब करने वालों को सबक सिखाने के लिए जोनल प्रभारियों, जोनल स्वच्छता अधिकारियों, निरीक्षकों और सेनिटरी इंस्पेक्टरों के जरिए जुर्माना वसूलने का काम सख्ती से किया जाएगा। स्थानीय लोगों से भी अपील की जाएगी कि खुले में पेशाब करने वालों को टोकें और खुद भी इससे बचें। ताकि शहर को ओडीएफ प्लस प्लस का दर्जा मिल सके।

नगर निगम ने शहर को ओडीएफ प्लस प्लस घोषित कराने के लिए शासन को रिपोर्ट भेज दी गई है। स्वच्छ भारत मिशन द्वारा इसकी जांच कराई जाएगी। सर्वे में मानक पूरे मिले तो शहर को यह दर्जा भी मिल जाएगा।

Facebook Comments