यह वे दो कबूतर हैं लाखों वर्षों से आज भी जिंदा है जाने पूरी अमरकथा

Third party image reference

दोस्तों एक समय की बात है, माता पार्वती ने शंकर भगवान से कहा कि आप तो अजर-अमर हैं। लेकिन मुझे हर जन्म में पुनर्जन्म लेकर आपके साथ आना पड़ता है। आप भी मुझे कोई ऐसा तरीका बताइए, जिससे मैं भी आपकी तरह अमर हो जाऊं और हमेशा आपकी सेवा करती रहूंगी।

तो भगवान शिव ने माता पार्वती को अमर करने की कथा सुनाने की बात कही लेकिन वह चाहते थे, कि उनकी बात कोई भी माता पार्वती के अलावा कोई ना सुन पाए। जिसके लिए उन्होंने अमरनाथ की गुफा को चुना और उन्होंने अमरनाथ की गुफा के अंदर माता पार्वती को अमर होने की कथा सुनाएं लेकिन उसी समय जब भगवान शिव की अमर कथा माता पार्वती को सुना रहे थे, तो दो कबूतर भी उस जगह पर उनकी बातों को सुन रहे थे।

तो जब माता पार्वती को उन्होंने अमर होने की कथा सुनाएं तो उन दो कबूतरों ने भी भगवान शिव की कथा को सुन लिया और वह भी अमर हो गए।

इसलिए आप जब भी अमरनाथ की गुफा के पास जाएंगे तो वह दो कबूतर आपको अभी भी मिल जाएंगे।

Facebook Comments