कैसे करे पूजा पाठ जाने विधि……

भगवान की आराधना तो सभी करते है लेकिन कभी-कभी पूजा-पाठ में अनजाने में हुई गलतियों के कारण मनुष्य को जीवन में बड़ी विपत्तियों का सामना करना पड़ता है. यह छोटी छोटी गलतियां जीवन को बुरी तरह प्रभावित करती है.आइये जानते है वो कौनसी गलतियां है जो छोटी होने के बाबजूद भी जीवन में बड़ी सुखदायी होती है. 

 

प्रणाम : भगवान को प्रणाम करते समय कभी-भी एक हाथ से चरण स्पर्श नहीं करना चाहिए.बड़ों को प्रणाम करते समय उनके दाहिने पैर पर दाहिने हाथ से और उनके बांये पैर को बांये हाथ से छूकर प्रणाम करना चाहिए.

 

पुष्प-अर्पण : शुद्धता के चक्कर में कभी-कभी लोग भगवान को पानी में रखा हुआ पुष्प अर्पण करते है जिसको भगवान कभी भी स्वीकार नहीं करते है. ऐसी गलती करने से बचें.

 

आरती : भगवान की आरती करते समय उनके चरणों की चार बार, नाभि की दो बार, मुख की एक बार आरती उतारकर समस्त अंगों की सात बार आरती करना ही इसका सही और फलदायी तरीका है. आरती के समय घंटी, थाली, शंख आदि बजाने से इनकी शुद्ध ध्वनि से आसपास के वातावरण के कीटाणु नष्ट हो जाते हैं और सकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह होता है.

जाप : करते समय सिर पर कपडा या हाथ नहीं रखना चाहिए केवल तिलक लगवाते समय ही सिर पर हाथ या वस्त्र रखना चाहिए. तिलक लगाकर ही पूजा करना चाहिए.

Facebook Comments