जितने का प्लाजा होटल बिका है उतने में गरीबी दूर हो जाए, जी हां 41 अरब रु. में जानिए कौन है खरीददार

क़तर न्यूयोर्क सबसे बड़े होटलों में से एक प्लाजा होटल को 600 मिलियन डॉलर (41 अरब रुपये) में खरीदने का मन बना चुका है. कभी अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की मिलकियत रहा ये होटल अब कतर सरकार के कतारा होल्डिंग, होटल के अधीन होगा. 75 फीसदी स्टेक भारतीय बिजनेस समूह सहारा इंडिया है.

सूत्र ने यह जानकारी दी है की सौदा अभी सार्वजनिक नहीं हुआ है. वही अभी तक इसकी आधिकारिक सुचना भी नहीं मिली है. पिछले दशक में पश्चिम के बड़े होटलों और लग्जरी प्रॉपर्टी को लगातार कतर खरीद रहा है जिसके पीछे गैस और तेल एक्सपोर्ट की कमाई को इन्वेस्ट करने का मकसद है. कतर, लिक्विड नेचुरल गैस दुनिया का सबसे बड़ा निर्यातक है.

वह पहले से ही लंदन में ‘द सेवॉय’ और ‘द कनॉट’ जैसे ऐतिहासिक होटलों का मालिक है. कतर निवेश प्राधिकरण ने वोक्सवैगन और ग्लेनकोर में भी निवेश कर खुद को मजबूत कर लिया है. कथित तौर पर आतंकवाद का समर्थन करने के आरोप को कतर ने नाकारा है और कहा कि आर्थिक बहिष्कार उसकी संप्रभुता को कमजोर करने का प्रयास है.

Facebook Comments