हलाला के खिलाफ कोर्ट जाने वाली महिला ने कहा- जज साहब मेरा पति मुझे मार देगा, बचा लो

निकाह हलाला के रिवाज को खत्म करने की मांग को लेकर इस महीने की शुरुआत में उच्चतम न्यायालय का रुख करने वाली उत्तर प्रदेश के सिकंदराबाद की एक मुस्लिम महिला ने मंगलवार को आरोप लगाया कि उसका पति उसे जान से मारने की धमकियां दे रहा है। फरजाना नाम की इस महिला ने अपनी अर्जी में दावा किया था कि उसके पति ने उसे अवैध रूप से तलाक दिया था, जिसके कारण वह और उसकी बेटी के पास न तो जीने का कोई साधन बचा और न ही वित्तीय समर्थन रहा।

महिला ने दिल्ली में पत्रकारों को बताया, ‘मैंने जब से अर्जी दाखिल की है, मेरे पति मुझ पर अर्जी वापस लेने का दबाव बना रहे हैं और मुझे जान से मारने की भी धमकी दी है। उन्होंने मुझसे कहा है कि उच्चतम न्यायालय जाने से मुझे कोई फायदा नहीं होने वाला और मुझे हलाला के लिए मजबूर कर दिया जाएगा।’ मुस्लिम पर्सनल लॉ के मुताबिक, निकाह-हलाला के तहत किसी तलाकशुदा महिला को किसी और से शादी करनी होती है, शारीरिक संबंध बनाना होता है और फिर उसे तलाक देना होता है ताकि वह फिर से अपने पहले पति से शादी कर सके।

Facebook Comments