कुत्ते के साथ जंगल में गई ये 2 लड़कियां,लौट कर घर नहीं आईं

सोशल मीडिया पर इन दिनों 2014 में हुई एक घटना पर बहस छिड़ी हुई है। छुट्टियां मनाने निकली दो लड़कियां, जो अब तक लौट कर घर नहीं आईं हैं। उनके पेरेंट्स अब भी अब भी इन्तजार कर रहे हैं। लोग सवाल पूछ रहे हैं कि क्या दोनों अभी तक जिंदा हैं या मर चुकी हैं

रहने वाली 2 लड़कियां Kris Kremers और Lisanne Froon छुट्टियां बिताने के लिए पनामा गई थीं। पनामा में शुरू के 2 हफ्ते उन्होंने जगह को एक्स्प्लोर करने में निकाल दिए थे। लेकिन 1 अप्रैल 2014 की रात में दोनों होटल से एक कुत्ते के साथ बाहर निकलीं लेकिन कभी लौट कर वापस नहीं आईं।

1 अप्रैल की रात में होटल वालों ने देखा कि जिस कुत्ते को क्रिस और लिसेन अपने साथ लेकर निकली थीं, वो वापस आ गया है। होटल वालों ने अगले दिन सुबह तक लड़कियों के लौटने का इंतजार किया लेकिन वे नहीं आईं। आगे के कुछ दिन वहां की ऑथोरिटीज इन्हें ढूंढ़ती रही लेकिन वे नहीं मिलीं। 6 अप्रैल को क्रिस और लिसेन के घर वाले उन्हें ढूंढने के लिए कुछ डिटेक्टिव्स के साथ पनामा पहुंचे। लेकिन अगले 10 हफ्ते तक किसी का नामोंनिशान नहीं मिला।

 

पनामा में रहने वाली एक औरत ने पुलिस को जंगल में मिला एक बैग दिया। उसमें कुछ पैसे, चश्मा, कैमरा, कपड़े और दो फोन थे। फोन्स मिलते ही पुलिस ने छान-बीन करना शुरू कर दिया। पुलिस ने पता लगाया कि क्रिस और लिसेन ने पनामा की पुलिस को 77 कॉल लगाए थे। लेकिन सिग्नल न होने के कारण कोई भी कॉल लग नहीं पाया।

पुलिस को फोन से उनकी ट्रिप की कुछ फोटोज मिले। एक फोटो में ऐसा दिखाई दे रहा था जैसे जंगल में उन दोनों का सामान बिखरा पड़ा हो और एक फोटो में ऐसा नजर आ रहा था जैसे क्रिस के सिर से खून बह रहा हो। इस हादसे के 2 महीने बाद पुलिस को उस जगह से कुछ हड्डियां मिली। लेकिन ये यकीन के साथ नहीं कह सकते थे कि ये क्रिस और लिसेन की हड्डियां हैं। इतने सालों बाद आज भी किसी को नहीं पता की आखिर क्रिस और लिसेन के साथ क्या हुआ था। वे एकदम से कहां गायब हो गयीं?

 

Facebook Comments