Lesson : बेघर शख्स को रास्ते में पड़ा मिला पर्स, बिना पैसे निकाले ही बदल गई दुनिया

आज भी इमानदारी जिंदा है इसका सबूत है ये शख्स। ये तो आप भी जानते हैं कि इमानदारी का फल अगर कोई न दे तो उपर वाला खुद देता है। इस शख्स के साथ भी कुछ ऐसा ही हुआ। इसे पर्स मिला, लेकिन पर्स बिना खोले ही इस शख्स की LIFE बदल गई।

44 साले Woralop के पास अपना घर तक नहीं था लेकिन एक दिन उन्हें एक पर्स मिला. इस पर्स में 20,000 Baht माने कि 440 पाउंड थे। गर इंडियन करेंसी के हिसाब से देखें तो इसमें 38,799 रुपये थे। वो चाहते तो इस पर्स में पड़े पैसों से अपनी ज़रूरत की चीज़ें खरीद सकते थे, लेकिन उन्होंने ऐसा ना कर पर्स नज़दीकी पुलिस स्टेशन में जमा करवा दिया. यहां से यह कीमती पर्स उसके मालिक के पास पहुंचा दिया गया। और हां… उसके मालिक ने खुश होकर Woralop को नौकरी के साथ-साथ फ्लैट भी दिया।

ये पर्स 30 साल के Niity Pongkriangyos का है। जब पुलिस ने उन्हें फोन कर बताया कि उनका पर्स मिल गया है, तो उनकी खुशी का ठिकाना नहीं रहा। वो बताते हैं कि, “मैं पूरी तरह से चौंक गया था जब पुलिस ने मुझे ये बताया कि मेरा पर्स चोरी हो चुका है. मैं तो ये जानता भी था कि वो चोरी हो चुका है।” इसके बाद जब पुलिस स्टेशन जाने पर पता चला कि एक बेघर और ज़रूरतमंद इंसान ने उनका पर्स वापिस किया है। तो उन्होंने Woralop को अपनी फैक्ट्ररी में काम करने का न्योता दिया।

हालांकि, Nitty ने पहले 2,000 Baht का Woralop को ईनाम देने की कोशिश की लेकिन बाद में उन्होंने उसे अपनी कंपनी में काम दिया और रहने के लिए फ्लैट भी। Woralop को अब 11,000 Baht बतौर पगार मिलती है. मामला कुछ इस तरह से है कि, Woralop मजबूरन Sub Way पर सो रहा था, तभी Nitty का पर्स वहां गिर गया था. वो उसके पीछे पर्स देने के लिए भागा, लेकिन दे नहीं पाया।

Woralop कहते हैं कि, इस एक घटना के बाद से मेरा पूरा जीवन बदल गया है, अब मैं सुकूं भरा जीवन जी रहा हूं. मैं Nitty और उसकी दोस्त का तहदिल से धन्यवाद करता हूं। Nitty की गर्लफ्रेंड ने Woralop की तस्वीर और उसकी इंसानियत का ये पहलू सोशल मीडिया पर लोगों के साथ शेयर किया। लोगों ने Woralop के इस काम की बहुत सराहना की और अन्य लोगों को भी कुछ सीखने के लिए कहा।

 

Facebook Comments