केपी सिंह ने अपने इस घर के चलते नया कीर्तिमान बनाया,लिम्का बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज हुआ …..

केपी ने अपने इस घर के बारे में बात करते हुए कहते है कि वो पेड़ों से बहुत प्यार करते है. केपी सिंह ने अपने इस घर को बनाते हुए पेड़ को थोड़ी सी भी तकलीफ नहीं दी है. केपी सिंह ने अपने इस घर के चलते नया कीर्तिमान बनाया है. इस घर के ही कारण इनका नाम लिम्का बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज हुआ है.

आपने कई ऐसे घरों के बारे में सुना होगा जो किसी पेड़ के ऊपर बनाए जाते है. वहीं अगर बचपन में आपने मोगली कार्टून देखा हो तो उसमें भी उल्लू पेड़ के अंदर ही घर बनाकर रहता था, लेकिन हम आपको जो बताने जा रहे है वो घर थोड़ा अनोखा है. कानपूर के एक इंजीनियर साहब पिछले 18 सालों से आम के बने एक पेड़ पर रहे है. घर भी ऐसा मानों कोई महल हो.

हम बात कर रहे है, केपी सिंह की. पेशे से इंजीनियर केपी सिंह रहने वाले कानपुर है, कानपूर से ही इन्होने अपना ग्रेजुएशन आईआईटी से किया है. वहीं फिलहाल वो उदयपुर में बतौर इंजीनियर काम करते है. इन्होने 87 साल पुराने एक आम के पेड़ पर अपना घर बनाया है. घर भी ऐसा जिसमें बाथरूम, बालकनी, छत और यहाँ तक की पेड़ के तने में उन्होंने अलमारियां तक बनाई है. इस घर में सभी सुख-सुविधाएं है जो किसी आम घर में होती है.

केपी ने अपने इस घर के बारे में बात करते हुए कहते है कि वो पेड़ों से बहुत प्यार करते है. केपी सिंह ने अपने इस घर को बनाते हुए पेड़ को थोड़ी सी भी तकलीफ नहीं दी है. केपी सिंह ने अपने इस घर के चलते नया कीर्तिमान बनाया है. इस घर के ही कारण इनका नाम लिम्का बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज हुआ है. केपी सिंह अपने इस घर को लेकर बहुत खुश है, उनका मानना है कि कुछ लोग इस घर को पागलपन करार देते थे लेकिन अब सभी इससे जलते है.

Facebook Comments