ममता : आज सोनिया-केजरीवाल से करेंगी मुलाकात

तृणमूल कांग्रेस प्रमुख और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी मिशन 2019 के लिए सक्रिय हो गई हैंं। तीन दिवसीय दौरे पर दिल्ली पहुंची ममता की इस यात्रा का एजेंडा भले ही आधिकारिक बताया जा रहा हो लेकिन यहां वह राष्ट्रीय विपक्षी दलों को एकजुट करने के लिए शीर्ष नेताओं से मुलाकत करेंगी। मंगलवार को सीएम ने जहां एनसीपी चीफ शरद पवार, उनकी बेटी सुप्रिया सुले, भाजपा के बागी यशवंत सिन्हा और शत्रुघ्न सिन्हा के साथ राम जेठमलानी से मुलाकात की। बुधवार को वह यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी और आम आदमी पार्टी संयोजक अरविंद केजरीवाल से मिलने वाली हैं।
PunjabKesari
कोलकाता रैली के लिए करेंगी आमंत्रित
तृणमूल सूत्रों के अनुसार सोनिया गांधी से व्यक्तिगत रूप से मिलकर ममता आगामी 19 जनवरी को कोलकाता में‘संघीय एवं भाजपा विरोधी ताकतों’ की रैली के लिए आमंत्रित कर सकती हैं। कोलकाता की इस रैली को विपक्ष में बनर्जी की स्थिति को और मजबूत करने की कवायद के तौर पर देखा जा रहा है। कांग्रेस पहले ही यह संकेत दे चुकी है कि वह गैर आरएसएस समर्थित किसी भी दल के किसी नेता को प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार बनाये जाने के खिलाफ नहीं है।

PunjabKesari
देवगौड़ा से भी करेंगी मुलाकात   
खबरों के अनसार ममता शाम 5 बजे सोनिया गांधी से दस जनपथ पर मुलाकात करेंगी। इसके बाद वह शाम 6 बजे पूर्व प्रधानमंत्री और जेडीएस अध्यक्ष एचडी देवगौड़ा से कर्नाटक भवन में मुलाकात करेंगी। इसके बाद ममता दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के साथ शाम 7 बजे मुलाकात करेंगी। गैर एनडीए और गैर यूपीए दलों में बंगाल की सीएम के पास कई पार्टियों का समर्थन पहले से मौजूद है। केजरीवाल और उनकी आम आदमी पार्टी उनके साथ खड़ी है। वहीं, आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री और तेलुगू देशम पार्टी के प्रमुख चंद्रबाबू नायडू भी ममता का समर्थन कर रहे हैं।

PunjabKesari

बनर्जी एक मजबूत दावेदार 
वहीं मंगलवार को बनर्जी ने संवाददाताओं से कहा था कि 2019 के लोकसभा चुनाव में भाजपा का मुकाबला करने के लिए सामूहिक नेतृत्व होगा। मैं सभी विपक्षी नेताओं से मुलाकात करूंगी और उन्हें रैली के लिए आमंत्रित करूंगी। मैं कल कांग्रेस नेता सोनिया गांधी से भी मिलूंगी। तृणमूल नेता से सवाल किया गया था कि क्या प्रस्तावित भाजपा विरोधी मोर्चे के लिए उन्हें प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार बनाया जा सकता है। बनर्जी को एक मजबूत दावेदार के तौर पर देखा जा रहा है।

Facebook Comments