मुन्ना बजरंगी गैंग के शूटर अभिनव ने फैजाबाद में सरेंडर किया

पूर्वांचल के माफिया मुन्ना बजरंगी के शूटर अभिनव सिंह ने सोमवार को कोर्ट में सरेंडर कर दिया। कोर्ट में सरेंडर के दौरान बड़ी संख्या में पुलिस तैनात रही। सरेंडर के दौरान अभिनव ने खुद की हत्या की आशंका जताई है।

शूटर अभिनव पर जिला पंचायत सदस्य रेखा चौधरी के पति रामचंद्र से रंगदारी मांगने और जानलेवा हमले की साजिश रचने के आरोप है। बीते फरवरी माह में एसटीएफ ने अभिनव सिंह और उसके साथी धनेष यादव को शहर के अमानीगंज स्थित एक लॉन से अरेस्ट कर लिया था। दोनों पर रामचंद्र से रंगदारी मांगने और जानलेवा हमले की साजिश रचने के आरोप में नगर कोतवाली में केस दर्ज है। बाद में अभिनव समेत अन्य पर गैंगेस्टर लगा दिया गया था। शूटर अभिनव के अधिवक्ता मार्तंड प्रताप सिंह ने बताया कि अभिनव सिंह ने आने-जाने के दौरान हाई सिक्योरिटी की मांग की है। अभिनव के अनुसार उसकी जान को मुन्ना बजरंगी गैंग के कटेहरी ब्लाक प्रमुख अजय सिपाही, धनेश सहित गैंग के अन्य सदस्यों से खतरा है।

इससे पहले 9 जुलाई को बागपत जेल में गैंस्टर मुन्ना बजरंगी को सुनील राठी ने गोलियों से छलनी कर दिया था। इस घटना से पूरे यूपी में हड़कंम मच गया था। पुलिस अफसरों के साथ ही जेलों में बंद अन्य बड़े माफिया तक के होश उड़ गये थे। हर कोई हैरान था कि आखिर जेल में पिस्टल और मैंगजीन कैसे पहुंची। जिसके बाद जांच में जेलर समेत चार लोगों को दोषी पाया गया। साथ ही एक नम्बरदार को भी इसमें साठगांठ का आरोपी माना गया था।

Facebook Comments