NATURAL एयर प्यूरिफायर का काम करेंगे ये पेड़-पौधे….

हम आपको इस जहरीली गैस से बचने के लिए उन पेड़-पौधों के बारे में बताने जा रहे हैं जो आपको पॉल्यू़शन से तो बचाएंगे ही साथ ही एयर प्यूरिफायर का भी काम करेंगे।

सान्सेवीरिया प्लांट – इस पौधे की शार्प लीव्स बेहद पॉपुलर है। ये एकमात्र पौधा है जो रात में ऑक्सीजन रिलीज करता है। इसे बालकनी या फिर खिड़की के पास रखा जा सकता है। ये कार्बनडाई ऑक्साइड ऑब्जर्व करता है।

स्पाइडर प्लांट – उन रसोईघरों के लिए ये प्लांट फायदेमंद जहां गैस स्टोव लगे हैं। कार्बनडाई ऑक्साइड कंट्रोल करता है।

 

बोस्टन फर्न प्लांट – बास्केट में टांगने के लिए बेहतर प्लांट है। ये मीडियम लाइट में आसानी से ग्रो करता है।

ऐरेका पाम प्लांट –  वैसे तो इस प्लांट को कहीं भी रखा जा सकता है। खासतौर पर उन घरों में जहां कारपेट होते हैं और फ्रेश पेंट किया फर्नीचर होता है। टॉक्सीन गैसों के नेगेटिव इंपेक्ट को कम करता है।

 

इंग्लिश आइवी – इस प्लांट को भी बास्केट में आसानी से टांगा जा सकता है। जहां ताजा-ताजा पेंट हुआ हो। या फिर जिन जगहों पर कंप्‍यूटर, प्रिंटर्स, फैक्स मशीनें या पेट्रोल स्टेशन हों वहां इस प्लांट को लगाने के सबसे ज्यादा फायदे हैं।

चौड़ी पत्तियों वाले पेड़ पॉल्यू्शन को रोकने में कारगर- ऐसा माना जाता है कि छोटी और पतली पत्तियों के बजाय चौड़ी पत्तियों वाले पेड़-पौधें प्रदूषण को रोकने में अधिक कारगर हैं।

जहरीली हवा से बचाएंगे ये पौधे- नीम, पीपल, बरगद, जामुन और गूलर जैसे पौधे आसानी से उपलब्धी होते हैं और जहरीली गैसों से भी बचाते हैं। इसके अलावा साल, हरड़-बहेड़ा, अमलतास, बेल, रीठा, केम, साजा, ढाक, सैंबल, दूधी, लिसोढ़ा, बरगद, विश्तेंदु, खिरनी, कदंब, पिलखन, कुलू, चिलबिल, भिलमा, टीक, जैसे प्लांट्स भी आसानी से पॉल्यूशन को रोकते हैं।

कई स्टडी भी ये बात साबित कर चुकी हैं कि पौधों से आसानी से पॉल्यूशन कम किया जा सकता है। इतना ही नहीं, रिसर्च में ये भी दावे किए जा चुके हैं कि बहुत से ऐसे प्लांट्स हैं जो इंडोर एयर क्वालिटी सुधारते हैं।

 

Facebook Comments