J&K: त्राल से अगवा पुलिसकर्मी को आतंकियों ने छोड़ा, लौटा घर

दक्षिण कश्मीर के पुलवामा जिले से आतंकवादियों ने पुलिस कर्मी का बंदूक की नोक पर अपहरण कर लिया। परिवार के सदस्यों ने बताया कि 3 आतंकवादी शुक्रवार रात को घर में घुस गए और उन्हें भी प्रतिरोध करने पर जान से मारने की धमकी दी और फिर मदासिर अहमद को अगवा कर ले गए। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि पुलिस कर्मी का पता लगाने के लिए तलाशी अभियान चलाया जा रहा है। उक्त जवान अवंतीपुरा पुलिस लाइन में तैनात था। कश्मीर के आईजीपी एसपी पाणी ने जानकारी दी कि आतंकियों ने जवान को छोड़ दिया है।

इसी बीच सैन्य कार्रवाई के डर और जवान की मां की मार्मिक अपील पर देर रात जवान को छोड़ दिया है। जवान की मां ने आतंकियों से अल्ला की खातिर उनके बेटे को माफ करने और रिहा करने को कहा था। अपील के समय मां के साथ उसकी तीन बेटियां थीं। आतंकियों ने जवान को इस चेतावनी के साथ छोड़ा है कि वह अपनी नौकरी खुद इस्तीफा देगा और अन्य एस.पी.ओ. से भी दिलवाएगा। सूत्रों के मुताबिक पुलिसकर्मी केअपहरण की यह घटना पुलवामा के त्राल इलाके में हुई है। त्राल को हिजबुल मुजाहिदीन का गढ़ माना जाता रहा है।

वहीं सुरक्षाबल से जुड़े वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार आतंकियों के खिलाफ  सुरक्षाबलों द्वारा छेड़े गए आप्रेशन आल आऊट से आतंकी संगठन बुरी तरह से बौखलाए हैं। बीते दिनों पुलिस की भर्ती के दौरान उमड़ी स्थानीय लड़कों की भीड़ ने आतंकियों को परेशान कर दिया है। इसीलिए घाटी में आतंकी ऐसा माहौल बनाना चाहते हैं कि जो भी शख्स सुरक्षाबलों से जुड़ेगा या उनकी मदद करेगा, उनको आतंकियों के कहर का सामना करना पड़ेगा। सेना ने 22 आतंकियों की हिट लिस्ट तैयार की है जिसमें हिजबुल मुजाहिदीन के 11,  लश्कर के 7 और जैश-ए-मोहम्मद के 2 जबकि आई.एस. के 2 आतंकियों को मार गिराया गया था।

पूर्व में घटी घटनाएं 
-14 जून, 2018 को सैन्य जांबाज औरंगजेब का अपहरण
– जुलाई, 2018 को कांस्टेबल जावेद डार का अपहरण
– जुलाई, 2018 को कांस्टेबल मोहम्मद सलीम का अपहरण

Facebook Comments