इस तरह से करें शनि देव की पूजा समाप्त हो जाएंगे सारे कष्ट, जल्दी पढ़ें

आज के इस अंक में आप सभी का हार्दिक स्वागत है। शनिवार के दिन शनि देवता की पूजा की जाती है लेकिन कई लोगों पर या किसी राशि के लोगों पर उनका प्रभाव पड़ता है। कई बार हम सुनते है कि उसकी कुंडली में शनि दोष है, उसे ये काम करना चाहिए या इस तरह से शनि देव की पूजा करनाी चाहिए।भगवान शनि देव को न्याय का देव माना जाता है।

और इनका प्रभाव हर इंसान के जीवन पर बहुत ही महत्वपूर्ण होता है। शनिदेव मनुष्य को उसके अच्छे-बुरे कर्मों का फल देते हैं। जिस व्यक्ति पर शनि की कृपा रहती है उसके जीवन में सबकुछ अच्छा ही होता है।शनिदेव को दंडाधिकारी मना किया है वह मनुष्य के कर्मों का फलों से देखते हैं अगर वह गलत कर्म करता है तो उसे दंडित भी करते हैं अगर आप शनि की साढ़ेसाती से बचना चाहते हैं। शनिदेव की पूजा में तिलों का विशेष महत्व माना गया है माना जाता है कि तेरी भगवान विष्णु के पसीने से उत्पन्न हुए हैं।

इसलिए इन्हें अत्यंत पवित्र माना जाता है काले तिल चढ़ाने और दान करने से शनिदेव शीघ्र प्रसन्न होते हैं। अगर आप पर शनि देव की कृपा नहीं है तो काले घोड़े की नाल या नाव की कील से अंगूठी बनवा ले और इसे अपनी मध्यमा उंगली में शनिवार के दिन सूर्यास्त के समय पहन ले। ऐसा करने से शनि देव की कृपा आप पर जरूर होगी।

Facebook Comments