हो गया खुलासा इस वजह से होते हैं महिलाओं के प्राइवेट पार्टस् डार्क..

अक्सर लोगों के मन में ये सवाल होता है कि उनका रंग गोरा होने के बाद भी उनके प्राइवेट पार्ट्स का रंग डार्क क्यों होता है. ऐसा किसी एक के साथ नहीं बल्कि हर किसी के साथ होता है जिसका जवाब आज तक किसी को नहीं मिल पाया. तो आज हम इस आर्टिकल के ज़रिए आपको बताने जा रहे हैं आखिर क्यों होते हैं सभी के प्राइवेट पार्ट्स डार्क.

खुद को गोरा बनाये रखने के लिए लोग कई तरह के प्रयोग करते हैं और अपने शरीर को ढँक कर रखते हैं ताकि रंग खराब ना हो. इसी उपयोग से हमारा रंग बरक़रार रहता है. लेकिन अगर बात करें प्राइवेट पार्ट्स की तो वो हमेशा ही डार्क रंग के दिखाए देते हैं. जैसे थाई एरिया आपको डार्क दिखेगा और आपके बट्स का हिस्सा भी आपको गहरे रंग का ही दिखाई देगा. तो इसका कारण है आपका पसीना. जी हाँ, पसीना ही है जो आपकी स्किन को नुकसान पहुंचाता है.

आपको बता दें, शरीर के तापमान को बरक़रार रखने के लिए पसीना का स्राव रोम छिद्रों से होना ज़रूरी है. मनुष्य के निजी अंग ही सबसे ज्यादा ढंके हुए होते हैं जिसके कारण ना तो पसीना बाहर निकल पाता है ना ही हवा अंदर जा पाती है जिसके कारण उन हिस्सों पर हमेशा ही नमी बनी रहती है. वैसे ही मनुष्य बार-बार अपने प्राइवेट पार्ट्स को साफ़ नहीं कर पाता लेकिन जब नहाता है तभी वो उन हिस्सों को साफ़ कर पाता. इस पर डॉक्टर का कहना है कि ऐसे इनर वियर पहने जिससे हवा आसानी से पास हो सके. यही कारण है कि मनुष्य के प्राइवेट पार्ट डार्क होते हैं.

Facebook Comments