पूर्ण राज्य का समर्थन करें नहीं तो पीएम बनने के ख्वाब छोड़ दें राहुल गांधी: केजरीवाल

दिल्ली में पूर्ण राज्य को लेकर आम आदमी पार्टी ने महासम्मेलन कर पार्टी ने आंदोलन को तेज कर दिया है. पार्टी ने आंदोलन से जुड़ने के लिए हेल्पलाइन नम्बर भी जारी किया है. साथ ही केजरीवाल ने 2019 के लोकसभा चुनाव में दिल्ली की सियासी अहमियत बताते हुए कांग्रेस और बीजेपी दोनों को घेरा है. केजरीवाल ने कहा दिल्ली में एलजी अनिल बैजल आखिरी एलजी होंगे.

दिल्ली में सियासी बिसात बिछनी शुरू

बैंगलोर से 10 दिन बाद इलाज करवारकर लौटे दिल्ली में सीएम केजरीवाल ने सियासी बिसात बिछानी शुरू कर दी है. रविवार आम आदमी पार्टी ने दिल्ली के इंदिरा गांधी इंडोर स्टेडियम पूर्ण राज्य की मांग को लेकर महासम्मेलन आयोजित किया. 2019 के चुनाव के लिए कमर कसते हुए केजरीवाल ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से पूर्ण राज्य पर अपना स्टैंड क्लियर करने को कहा है.

केजरीवाल ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से कहा कि अगर पूर्ण राज्य मे समर्थन नहीं किया तो पीएम बनने के सपने मत देखना. केजरीवाल ने पीएम मोदी को घेरते हुए कहा कि दिल्ली में सातों सीट जो जीतेगा केंद्र में उसकी सरकार बनेगी. केजरीवाल ने पीएम को घेरते हुए कहा कि मोदी जी दिल्ली को पूर्ण राज्य का वादा पूरा करें नहीं तो उन्हें यहां से ठन ठन गोपाल मिलेगा.

सीएम केजरीवाल ने सम्मेलन में दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल पर जमकर भड़ास निकाली. केजरीवाल ने बैजल की तुलना मुगल और अंग्रेज़ो के शासन से कर डाली. आखिरी मुगल सम्राट कौन था? बहादुर शाह जफर था. केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में आखिरी वायसराय माउंटबेटन था. दिल्ली आखिरी एलजी अनिल बैजल होगा.

केजरीवाल ने कहा कि हम दिल्ली को राशन की डोर स्टेप डिलीवरी, मोहल्ला क्लीनिक, स्कूल कॉलेज, यूनिवर्सिटी देना चाहते हैं लेकिन एलजी हमें काम नहीं करने देते. केजरीवाल ने पूर्ण राज्य की रूपरेखा बताते हुए कहा कि एनडीएमसी का इलाका अपने पास केंद्र रखे बाक़ी दिल्ली को पूर्ण राज्य बनाये. हम दिल्ली को अपराध मुक्त करके दिखा देंगे.

पूर्ण राज्य की मांग आम आदमी पार्टी ने तेज़ कर दी है. आज सम्मेलन में भविष्य की रूप रेखा तय की गई. पार्टी ने इस मुद्दे को आम लोगों से जोड़ने के लिए एक नम्बर जारी किया है 7065049000 इस नंबर पर मिस कॉल देकर कोई भी इस आंदोलन से जुड़ सकता है. साथ ही पार्टी 3 से 25 जुलाई के बीच दिल्ली में हस्ताक्षर अभियान चलाएगी. पार्टी ने शुरुआत में 10 लाख हस्ताक्षर का लक्ष्य रखा जिसे पीएम को सौंपा जाएगा. आम आदमी पार्टी जितना आक्रामक होकर पूर्ण राज्य के मुद्दे को उठा रही उससे साफ है केजरीवाल 2019 का लोकसभा चुनाव इसी मुद्दे पर लड़ने वाले हैं.

Facebook Comments