इस चीज को एक बार पी लो सर्दी जुकाम से लेकर पुरानी खांसी और कफ भी पिघलकर आएगा बाहर

वायरल इंफेक्शन की वजह से सर्दी खांसी व जुकाम होना आम बात है। खासकर सर्दी के दिनों में अगर थोड़ी सी भी लापरवाही हो तो ये काफी तेजी से फैलता है। कई बार तो ऐसी सर्दी खांसी और कफ काफी ज्यादा दिनों तक बनी रह जाती है और जल्दी ठीक ही नहीं होती। ऐसे में इसका आयुर्वेदिक उपचार करना हीं सर्वोत्तम उपाय है। इसलिए आज इस आर्टिकल में हम आपको ऐसी औषधि के बारे में बताएंगे, जो सर्दी खांसी को ठीक करने में रामबाण है और जिसे आप अपने घर पर भी बड़ी आसानी से तैयार कर सकते हैं।

औषधि तैयार करने की सामग्री –

इस औषधि को तैयार करने की सभी सामग्रियां आपके किचन में ही मौजूद हैं। सबसे पहले आप एक बर्तन में तीन कप पानी लीजिए। अब इसमें आधा चम्मच जीरा, आधा चम्मच अजवाइन, चार पांच काली मिर्च के दाने, कद्दूकस किया हुआ थोड़ा सा अदरक, साबुत दालचीनी, गुड़ की छोटी सी डली और 6 से 8 तुलसी के पत्ते डालें। अब इसको उबालने के लिए रख दें। इसे तब तक उबालें जब तक पानी आधा न रह जाए। इसके बाद इसे छानकर आप इस औषधीय काढ़े का सेवन करें। आप इसमें थोड़ा शहद मिलाकर भी पी सकते हैं।

फायदे –

इस काढ़े के सेवन से पुरानी से पुरानी खांसी, सीने की जकड़न,सर्दी जुकाम, सिर दर्द और सर्दी के दूसरे लक्षणों से भी राहत मिलती है। साथ ही कफ, बलगम और गले की खराश वगैरह भी दूर होती है। ये काढ़ा बहुत ही गुणकारी है, जो वायरल इनफेक्शन को ठीक करने में लाभकारी होता है। साथ ही इम्यूनिटी बढ़ाने में भी उपयोगी होता है। हालांकि इस काढ़े का सेवन आप कभी भी कर सकते हैं लेकिन सुबह सुबह इसे पीना अधिक फायदेमंद होता है।

Facebook Comments