राहुल की पीएम दावेदारी पर ममता ने फिर उठाया सवाल, कहा-अभी किसी का नाम फाइनल ना हो

श्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने एक बार फिर से कांग्रेस की उस मांग को झटका दिया है, जिसमें उसने राहुल गांधी को प्रधानमंत्री पद के लिए प्रोजेक्ट करने की मांग की है. अब ममता बनर्जी ने इससे इतर अपनी बात रखी है. नेशनल कॉन्फ्रेंस के वरिष्ठ नेता उमर अब्दुल्ला के साथ मुलाकात की और कहा कि अगले लोकसभा चुनावों के लिए संभावित विपक्षी मोर्चा की ओर से प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार के तौर पर किसी का भी नाम नहीं चुना जाना चाहिए. ममता ने कहा कि ऐसा करना भाजपा से लड़ने की क्षेत्रीय पार्टियों की एकजुटता को विभाजित कर देगा.

उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि भाजपा विरोधी क्षेत्रीय पार्टियों को साथ आना चाहिए और उन्हें देश के फायदे के लिए बलिदान देना चाहिए. वहीं उमर अब्दुल्ला ने इमरान खान के भारत से संबंध सुधारने वाले बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि यह सुनने में अच्छा लग रहा है, लेकिन यह बहुत कुछ उनके कदमों पर निर्भर करेगा. उन्होंने कहा, “ हम उनका पदभार संभालने का इंतजार करेंगे .. उन्हें कुछ समय देते हैं.”

अगले चुनावों में भाजपा के सामने विपक्षी एकता के सवाल पर उमर अब्दुल्ला ने कहा, बिना कांग्रेस कोई भी विपक्षी एकता कामयाब नहीं होगी.
ममता बनर्जी के साथ बातचीत में भी हमने इस बात पर चर्चा की कि अगले चुनावों में हम किस तरह भाजपा से लड़ सकते हैं. उमर ने कहा, हम आम चुनावों के नजदीक हैं. मुझे पूरा भरोसा है कि उससे पहले हम एक नतीजे पर पहुंच जाएंगे.

Facebook Comments