कोशिश करते रहने से ही खुलता है सफलता का रास्ता

एक दिन एक व्यक्ति रास्ते पर चलते हुए जा रहा था। चलते चलते ही वह एक सर्कस के बाहर रुककर रस्सी से बंधे हुए एक हाथी को देखने लगा। उसे देख वे सोचने लगा कि जो हाथी जाली, मोटे चैन या कड़ी को भी तोड़ देने की शक्ति रखता है वह एक साधारण रस्सी से बंधे होने पर भी उसे तोड़ क्यों नहीं रहा है।

तभी उस व्यक्ति नें देखा कि हाथी के पास एक ट्रेनर खड़ा है। उसने ट्रेनर से पूछा कि यह हाथी अपनी जगह से इधर-उधर क्यों नहीं भागता या रस्सी क्यों नहीं तोड़ता है? ट्रेनर ने जवाब दिया कि जब यह हाथी छोटा था तब भी हम इसी रस्सी से इसे बांधते थे। उस समय यह बार-बार इस रस्सी को तोड़ने की कोशिश करता था पर कभी तोड़ नहीं पाया और बार-बार कोशिश करने के कारण इसे यह विश्वास हो गया कि रस्सी को तोड़ना असंभव है। जबकी आज हाथी इस रस्सी को तोड़ने की ताकत रखता पर ये सोच कर कोशिश भी नहीं कर रहा है कि पूरे जीवन में जिस रस्सी को तोड़ नहीं पाया अब क्या तोड़ पाउँगा। यह सुनकर वह दंग रह गया।

उस हाथी की ही तरह कई लोग ऐसे हैं जो अपनी जिंदगी में कोशिश करना छोड़ चुके हैं। क्योंकि उन्हें कई बार कोशिश करने के बाद भी असफलता ही मिली है। लेकिन उन्हें बार-बार कोशिश करते रहना चाहिए, क्या पता इस बार सफलता उनके हाथ लग जाए।

 

Facebook Comments