सावन के महीने में करें गौरी-शंकर की पूजा, होंगे ये चमत्कारी लाभ

अक्सर यह देखा गया है कि कई बार हर तरह से विवाह के योग्य होने के बाद भी बिना किसी वजह से कुछ लोगों के विवाह में रुकावट आती है और आप कई प्रयासों के बाद भी इस समस्या को दूर नहीं कर पाते है। ऐसे समय में आपको यह समस्या दूर करने के लिए गौरी शंकर पूजा की जानी चाहिए। यह पूजा करने के से आपको अच्छे और मनपसंद जीवनसाथी की प्राप्ति होती है।

हिन्दू शास्त्रों के अनुसार भगवान शिव और देवी गौरी (पार्वती) को देवी-देवता की सर्वश्रेष्ठ जोड़ी में से एक माना जाता है और उनका आशीर्वाद ना केवल आपको अच्छा और मनपसंद जीवनसाथी दिलाता है, बल्कि शांत और एक खुशहाल विवाहित जीवन के लिए भी फायदेमंद होते हैं। सावन के महीने में गौरी-शंकर की पूजा करना बहुत शुभ माना जाता है।

गौरी शंकर मंत्र –

“हे गौरी शंकरार्धांगी। यथा त्वं शंकर प्रिया।

तथा मां कुरु कल्याणी, कान्त कान्तां सुदुर्लभाम्।।”

लाभ 

Third party image reference

यह पूजा करने से विवाह में हो रही देरी और रुकावटें दूर होती है।

अगर आप सच्ची श्रद्धा और पूर्ण विधि से यह पूजा करते है तो आपको अच्छा और मनचाहा जीवनसाथी मिलता है।

यह पूजा करने से आपके वैवाहिक जीवन में चल रही समस्याएं भी दूर होती है।

गौरी शंकर की पूजा करना नकारात्मक शक्तियों से आपकी रक्षा करता है और आपको मानसिक शांति भी प्रदान करता है।

Facebook Comments