Pakistan Election 2018: पाकिस्तान में चुनाव आज, शाहरुख खान की चचेरी बहन भी हैं मैदान में

पाकिस्तान में आज नेशनल असेम्बली के लिए चुनाव होने जा रहा है, जिसमें 171 महिलाएं किस्मत आजमा रही हैं. यह पहला मौका है, जब इस देश में इतनी बड़ी संख्या में महिलाएं चुनाव लड़ रही हैं. इन 171 महिलाओं में 70 निर्दलीय उम्मीदवार हैं, जो किसी पार्टी का टिकट न मिलने के बावजूद अपने दम पर चुनावी मैदान में उतरी हैं. देश की सभी राजनीतिक पार्टियों ने इस बार महिलाओं को टिकट दिए हैं. एक महिला उम्मीदवार तो ऐसी सीट से चुनाव लड़ रही हैं, जहां कभी महिलाओं को मतदान करने की इजाजत ही नहीं थी. सिंध सीट से तो हिंदू महिला उम्मीदवार दावेदारी पेश कर रही हैं. शाहरुख खान की चचेरी बहन नूरजहां भी चुनावी अखाड़े में हैं. वह खैबर-पख्तूनख्वा सीट पर ताल ठोक रही हैं. यानी महिलाओं ने पाकिस्तान की राजनीति की तस्वीर बदलने की तैयारी कर ली है”.

पाकिस्तान की राजनीति कभी भी महिलाओं के लिए माकूल नहीं रही है. इस पर रोशनी डालते हुए अंतर्राष्ट्रीय मामलों के जानकार पुष्पेश पंत कहते हैं, “पाकिस्तान की राजनीति अलग तरह की रही है. यहां की महिला नेताओं की संख्या को आप उंगलियों पर गिन सकते हैं. जिस मुल्क में महिलाओं को शुरू से ही दबाकर रखा गया हो, वहां राजनीति में उनके लिए कितने कांटे होंगे, इसका अंदाजा आप लगा सकते हैं. देश में दो साल पहले हुए निकाय चुनाव में भी बड़ी संख्या में महिलाएं चुनाव लड़ी थीं”. वह कहते हैं, “इसका दूसरा पहलू भी है. अभी कहीं पढ़ा कि किसी निर्वाचन क्षेत्र में एक महिला उम्मीदवार के चुनावी पोस्टर से उसका चेहरा नदारद है. उसकी जगह पोस्टर में पति की तस्वीर छपी है। चुनाव पत्नी लड़ रही है, लेकिन तस्वीर पति की है. साफ है कि चुनाव जीतने के बाद कुर्सी पर तो पति ही बैठेगा। ऐसा हमारे यहां पंचायत चुनावों में दखने को मिलता है”.

वेबसाइट ‘गल्फ न्यूज’ के मुताबिक, इस चुनाव में 18 साल से अधिक उम्र की लगभग एक करोड़ महिलाएं इस बार वोट नहीं दे पाएंगी. क्यों? इसका जवाब खोजने पर भी नहीं मिला. अब आप हिसाब लगाएं कि पाकिस्तान में 9.7 करोड़ से ज्यादा मतदाता पंजीकृत हैं, जिसमें से सिर्फ 4.3 करोड़ महिला मतदाता हैं, जबकि पुरुष मतदाताओं की संख्या 5.5 करोड़ से अधिक है. अब यदि इन 4.3 करोड़ महिला मतदाताओं में से एक करोड़ महिलाएं वोट ही नहीं दे पाएंगी तो संख्या हुई 3.3 करोड़. क्या गारंटी है कि बाकी की सभी महिलाएं वोट देंगी?

Facebook Comments