शराब पीने वाले उड़ा रहे हैं कानून और सरकार की धज्जियां…

जालंधर जिले में शराब कारोबारियों द्वारा कानून की धज्जियां उड़ाकर मनमर्जी की जा रही है पर हैरानी की बात है कि इस सारे मामले में एक्साइज विभाग की ओर से कोई कार्रवाई नहीं हो रही।

इस बात से इन दिनों सारा शहर हैरान है कि एक ओर सरकार गर्मियों में बिजली बचाने के लिए लोगों से अपीलें कर रही है वहीं दूसरी ओर शहर व आस-पास के इलाकों में अनेकों शराब के ठेकों के आगे दर्जनों बिजली के एल.ई.डी. बल्बों की लडिय़ां जगाई जा रही हैं। शहर के  तकरीबन 100 ठेकों के आगे इस प्रकार की बल्बों की लडिय़ों से लोगों में चर्चा आम है कि कलियुग में शराब की प्रमोशन पूरी है जितनी रोशनी शराब के ठेकों के आगे दिखाई देती है, उतनी अगर आम गलियों-मोहल्लों में हो तो स्ट्रीट लाइटों की समस्या ही खत्म हो जाए पर शराब के ठेकों के आगे लगे इन बल्बों की लडिय़ों को कोई नहीं रोक रहा।

उधर, इससे भी दो कदम आगे जाते हुए कई शराब के ठेकों ने तो लोगों को और सुविधा दे रखी हैं कि लोगों को अहाते में जाकर शराब पीने का कष्ट करना न पडे इसलिए ठेकों के आगे ही सड़क पर ही शराब परोसी जाती है। शहर के कई ठेकों की लाइव तस्वीरें हमारे कैमरे में कैद हुईं जहां लोग ठेके से शराब लेकर वहीं खड़े होकर शराब पीते दिखाई दिए जोकि कानून की उल्लंघना तो है ही बल्कि जो लोग ठेके से आगे से गुजरते हैं, उनके लिए भी परेशानी का सबब है पर इन ठेकों के ऊपर ऐसी पावरों का हाथ है कि सरकारी विभाग इन्हें गैरकानूनी काम करने से रोकने की हिम्मत नहीं करता। सारे मामले बारे डी.ई.टी.सी. जसपिंद्र सिंह से बात की तो उन्होंने कहा कि सारे शराब के ठेके वालों के सख्त हुक्म हैं कि सड़क पर किसी को शराब नहीं पिलानी पर असल में कुछ लोग खुद ही सड़क पर खड़े होकर शराब पीने लगते हैं। ऐसे लोगों के खिलाफ पुलिस को कार्रवाई करनी चाहिए।

Facebook Comments