इस Special मंत्र के साथ चढ़ाएं शिव जी पर दूध, होगी सुखों की प्राप्ति

शिव महापुराण के अनुसार सृष्टि निर्माण से पहले केवल शिवजी का ही अस्तित्व बताया गया है। भगवान शंकर ही वह शक्ति हैं जिनका न आदि है और न अंत। इसका मतलब यही है कि शिवजी सृष्टि के निर्माण से पहले से हैं और प्रलय के बाद भी केवल महादेव का ही अस्तित्व रहेगा। अत: इनकी भक्ति मात्र से ही मनुष्य को सभी सुख, धन, मान-सम्मान आदि प्राप्त हो जाता है।

प्रतिदिन विधि-विधान से शिव का पूजन करने वाले श्रद्धालुओं को अक्षय पुण्य की प्राप्ति होती है। शिवजी को जल्द ही प्रसन्न करने के लिए शिव पर प्रतिदिन कच्चा गाय का दूध अर्पित करें।

गाय को माता माना गया है अत: गौमाता का दूध पवित्र और पूजनीय है। इसे शिव पर चढ़ाने से महादेव श्रद्धालु की सभी मनोकामनाएं पूर्ण करते हैं।

दूध की प्रकृति शीतलता प्रदान करने वाली होती है और शिवजी को ऐसी वस्तुएं अतिप्रिय हैं जो उन्हें शीतलता प्रदान करती हैं। इसके अलावा ज्योतिष में दूध चंद्र ग्रह से संबंधित माना गया है। चंद्र से संबंधित सभी दोषों को दूर करने के लिए प्रति सोमवार को शिवजी को दूध अर्पित करना चाहिए।

इस मंत्र के साथ चढ़ाएं दूध:
‘नम: शंभवाय व मयोभवाय च नम: शंकराय च मयस्कराय च नम: शिवाय च शिवतराय च।।
ईशान : सर्वविध्यानामीश्वर: सर्वभूतानां
ब्रम्हाधिपतिब्र्रम्हणोधपतिब्र्रम्हा शिवो मे अस्तु सदाशिवोम।।
तत्पुरषाय विद्यहे महादेवाय धीमहि। तन्नो रुद्र: प्रचोदयात।।

Facebook Comments