Dharm : घर बैठे कर सकेंगे देवी-देवताओं की मूर्तियों का भू-विसर्जन

राजधानी में ऐसा पहली बार हो रहा है जब किसी संस्था ने पहल करके अपने बल पर देवी-देवताओं की मूर्तियों के भू-विसर्जन के लिए लगातार 15 दिनों तक अभियान चलाने का निर्णय लिया है। यही नहीं संस्था ने एक वैन इस कार्य के लिये निशुल्क मुहैया कराई है। जो बुजुर्गों और घाट तक पहुंचने में असमर्थ लोगों के बुलावे पर तत्काल उनके घर पहुंचेगी और उनकी मूर्तियों का विधिवत भू-विसर्जन करेगी।
इस संस्था का नाम स्वच्छ पर्यावरण आंदोलन सेना है। जिसने रविवार से देवी-देवताओं की मूर्तियों को उठाकर झूले लाल पार्क के निकट गोमती तट पर भू-विसर्जन के अभियान की शुरुआत कर दी है। संस्था ने लगातार 21वें  रविवार को झूले लाल पार्क के निकट अटल बिहारी वाजपेयी गोमती तट पर बने भू-विसर्जन स्थल पर  सफाई  भी की। सेना के संयोजक और पूर्व पार्षद रणजीत सिंह के  नेतृत्व  में दर्जनों  स्वयंसेवकों ने श्रमदान किया। बाबूगंज पुलिस चौकी, निरालानगर, अलीगंज,साई मन्दिर, राम राम  बैंक चौराहा,जानकीपुरम से मूर्तियों को उठाया गया। श्रमदान में विष्णु तिवारी, कृपा शंकर वर्मा, मुकेश  चौरसिया, भुवन पांडे,  रज्जू तिवारी सहित तमाम स्वयंसेवक शामिल हुए।
भू-विसर्जन के लिए स्थल की मांग

संस्था के पदाधिकारियों ने प्रदेश सरकार से मांग की कि गोमती नदी के विभिन्न तटों को देवी-देवताओं की मूर्तियों के भू- विसर्जन के लिए विकसित किया जाए। ताकि मूर्ति विसर्जन के लिए लोगों को इधर-उधर भटकना न पड़े।
बुजुर्गों की मदद के लिए हेल्पलाइन नम्बर

सीनियर सिटीजन व अन्य लोग जो गोमती तट पर पहुंचने में असमर्थ हैं, के लिए संस्था ने हेल्पलाइन नम्बर 9415414111 जारी किया है।  काल करने पर मूर्ति उठाओ अभियान मोबाइल वैन उनके दरवाजे से मूर्तियों को उठाकर विधिवत भू-विसर्जन के लिए ले जाएगी।

Facebook Comments