टीम इंडिया के इस गेंदबाज से खौफ खाती थी पाकिस्तान टीम

क्रिकेट की दुनिया में टीम इंडिया और पाकिस्तान के बीच प्रतिद्वंद्विता किसी से छिपी नहीं है. इन दोनों टीमों के बीच होने वाला मैच एक पर्व की तरह होता है. हालांकि फिलहाल काफी लंबे समय से इन दोनों टीमों के बीच कोई मैच नहीं हुआ है. लेकिन 90 के दशके भारत और पाकिस्तान के मैच का रोमांच किसी भी कमजोर दिल वाले की धड़कनें थामने के लिए काफी थे. आंकड़ों में भले पाकिस्तान ने भारत से ज्यादा मैच जीते हों, लेकिन बड़े मुकाबलों में टीम इंडिया ने पाकिस्तान को मात दी है.

ऐसे मैचों में कुछ खास खिलाड़ी होते हैं जो एक टीम के खिलाफ चलते ही हैं. जैसे टीम इंडिया के तेज गेंदबाज रहे रहे वेंकटेश प्रसाद. उनकी और पाकिस्तानी खिलाड़ियों के बीच प्रतिद्वंद्विता जगजाहिर रही है. प्रसाद ने एक दो नहीं बल्कि पाकिस्तान के खिलाफ कई मैचों में इतनी बेहतरीन गेंदबाजी की, जिसने उसकी कमर ही तोड़ दी. फिर चाहे वह 1996 में वर्ल्डकप का क्वार्टरफाइनल हो या फिर 1999 में इंग्लैंड में खेला गया मैच हो. वेंकटेश प्रसाद की गेंदों का जवाब पाकिस्तान के पास नहीं था. 5 अगस्त को वेंकटेश प्रसाद के जन्म दिन पर उनके साथी खिलाड़ी रहे सचिन तेंदुलकर ने उन्हें बधाई दी.

बाकी टीमों के मुकाबले प्रसाद पाकिस्तान के खिलाफ ज्यादा विकेट लेते थे. 5 अगस्त 1969 को बेंगलुरु में जन्मे प्रसाद का पूरा नाम बापू कृष्णराव वेंकटेश प्रसाद है. टीम इंडिया में तेज गेंदबाज का जिम्मा उनहोंने करीब एक दशक तक उठाया. उन्होंने 33 टेस्ट मैच खेले. इसमें 96 विकेट लिए. वहीं वनडे क्रिकेट में उन्होंने 161 मैचों में 196 विकेट लिए. पहला मैच प्रसाद ने अप्रैल 1994 में न्यूजीलैंड की धरती पर उसके ही खिलाफ खेला. वहीं आखिरी मैच 2001 में केन्या के खिलाफ खेला.

1999 के वर्ल्डकप के मैच में किया शानदार प्रदर्शन
पाकिस्तान के खिलाफ वेंकटेश प्रसाद जमकर कामयाब रहते थे. वह पाकिस्तान के खिलाफ जब 2 या उससे ज्यादा बार विकेट लेते तो अक्सर टीम इंडिया को जीत ही मिलती. उन्होंने पाकिस्तान के खिलाफ ही अपना वनडे का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया था. ये मैच था 1999 वर्ल्डकप का. इस मैच में उन्होंने 27 रन देकर 5 विकेट लिए थे. कोलंबो में एक मैच जो रद्द हो गया, उसमें पहले बल्लेबाजी करने उतरी पाकिस्तान की टीम के पहले 4 बल्लेबाज प्रसाद ने 23 रन पर वापस भेज दिए थे. हालांकि उस दिन बारिश आ गई और मैच रद्द हो गया.

आंकड़े बताते हैं पाकिस्तान के खिलाफ सबसे कामयाब
प्रसाद ने सबसे ज्यादा मैच पाकिसतन के खिलाफ खेले. उसी के खिलाफ सबसे ज्यादा विकेट भी लिए. 29 मैचों में उन्होंने सबसे ज्यादा 43 विकेट लिए. उन्होने 23 मैच न्यूजीलैंड के खिलाफ खेले. इसमें 22 विकेट ही लिए. 22 मैच श्रीलंका के खिलाफ खेले, लेकिन 20 विकेट ही लिए. जहां बाकी की टीमों के विरुद्ध उनका बॉलिंग औसत 32.30 था, तो पाकिस्तान के खिलाफ ये घटकर 28.90 रह जाता है.

1996 के वर्ल्डकप क्वार्टरफाइनल में आमिर सुहेल को दिया जवाब
1996 के वर्ल्डकप का क्वार्टरफाइनल बेंगलुरु में खेला जा रहा था. बल्लेबाजी करने उतरी पाकिस्तान की टीम के सलामी बल्लेबाज आमिर सुहेल और सईद अनवर तेजी से लक्ष्य की ओर बढ़ रहे थे. रोमांच और तनाव चरम पर था. ऐसे में प्रसाद के एक ओवर में आमिर सुहेल ने चौका जड़ा और प्रसाद से बाउंड्री की ओर इशारा कर दिया. इसके बाद अगली ही गेंद पर प्रसाद ने आमिर सुहेल को आउट कर दिया. अब बारी प्रसाद की थी, और उन्होंने भी उन्हें इशारा किया.

Facebook Comments