11 मिस्ट्री : तीसरा भाई आया सामने, 11 पाइपों के बारे में बताई नई कहानी

राजधानी दिल्ली के बुराड़ी में एक ही परिवार के 11 लोगों की मौत का मामला रहस्य बनता जा रहा है। एक तरफ जहां पुलिस इसे आध्यात्मिक और तंत्र-मंत्र से जोड़कर देख रही है, वहीं दूसरी ओर परिवार के बाकी लोग इसे हत्या बता रही है।

इस पूरी हादसे तीन दिन बाद परिवार का तीसरा बेटा सामने आया है। चित्तौड़गढ़ में रहने वाले तीसरे भाई दिनेश ने मौतों के पीछे तंत्र-मंत्र और धर्मांधता या किसी तांत्रिक की बात होने से इनकार किया है। दिनेश ने घर से बाहर निकले उन 11 पाइपों का रहस्य के बारे में बताया। दिनेश का कहना है कि पाइप वाली बात बिल्कुल गलत है। उसने कहा दरअसल उनके भाई का प्लाईउड का काम था, इस वजह से काफी काफी गैस बनती थी और इन 11 पाइपों को इसीलिए लगवाया गया था ताकि गैस निकलती रहे।

दिनेश का साफ-साफ कहना है, ‘क्राइम ब्रांच जो बातें कर रही है वो बिल्कुल गलत है। हमारा परिवार धार्मिक था। इस तरह की कोई बात नहीं थी। हम पूरी तरह से इस बात का खंडन करते हैं। हमें नहीं पता रजिस्टर की क्या बात है। यह आत्महत्या का मामला नहीं है हत्या का मामला है।’

वहीं दिनेश की बहन सुजाता ने सुबह पाइप की बातों को पाइप वेंटिलेशन और एक सोलर प्रोजेक्ट के लिए छोड़ने की बात कही थी। हालांकि उसने भी माना था कि उनका उनका परिवार धार्मिक था, लेकिन अंधविश्वासी कत्तई नहीं था। सुजाता ने मौतों के पीछे तंत्र-मंत्र या तांत्रिक विद्या से पूरी तरह इनकार किया है और कहा है कि उनके परिवार ने आत्महत्या नहीं की, बल्कि उनकी हत्या की गई है।

बता दें कि बुराड़ी के संत नगर में पीड़ित परिवार के घर के बाहर कुल 11 पाइपें निकली हुई हैं। पुलिस सूत्रों का कहना है कि 11 पाइपों में 7 पाइपों के मुंह ऊपर की ओर हैं, जबकि 4 पाइपों के मुंह सीधे हैं। मरने वालों में 7 महिलाएं और 4 पुरुष सदस्य थे।

Facebook Comments