कम्प्यूटर सिस्टम अपग्रेड से खाते में आए 20 लाख, वापस मांगने पर बोला- मैंने सब खर्च कर दिया

तो उन्होंने खाताधारकों से संपर्क किया और उनसे पैसे वापस करने का अनुरोध किया। गोधानी को छोड़कर सभी खाताधारकों ने पैसे वापस कर दिए।

गुजरात के शहर सूरत में बैंक फ्राउड का अनोखा मामला सामने आया है। यहां गलती से एक शख्स के खाते में 20 लाख रुपये ट्रांसफर हो गए। बैंक को जब अपनी गलती का एहसास हुआ तो उसने उस शख्स से पैसे लौटाने के लिए कहा। लेकिन उस शख्स ने कहा कि उसने सारे पैसे खर्च कर दिए हैं। पूरा मामला सूरत के बैंक ऑफ इंडिया का है। आरोपी परेश गोधानी के अकाउंट में बैंक के कम्प्यूटर सिस्टम अपग्रेड के दौरान गलती से 20 लाख रुपये की रकम पहुंच गई थी। परेश ने अकाउंट में आए पैसे खर्च कर दिए।

बैंक ऑफ इंडिया ने अदाजन पुलिस स्टेशन में एके रोड पर रहने वाले एक युवक के खिलाफ 20 लाख रुपये की ठगी का मामला दर्ज करवाया है। पुलिस के मुताबिक अक्टूबर 2017 में बैंक की महल रोड शाखा में डेटा अपग्रेडेशन के दौरान गोधानी के दो बैंक खातों में 20.26 लाख रुपये जमा हो गए थे। इसी तरह कुछ अन्य खाताधारकों को भी पैसे ट्रांसफर हो गए थे। जब बैंक के अधिकारियों को गलती के बारे में पता चला, तो उन्होंने खाताधारकों से संपर्क किया और उनसे पैसे वापस करने का अनुरोध किया। गोधानी को छोड़कर सभी खाताधारकों ने पैसे वापस कर दिए।

एक पुलिस अधिकारी ने कहा, गोधानी ने अपने डेबिट कार्ड का उपयोग करके पैसे खर्च किए। उनके पास सेविंग्स और करंट बैंक अकाउंट था और इन दोनों खातों में यह रकम जमा हो गई थी। पुलिस ने अभी तक आरोपी का बयान दर्ज नहीं किया है। पुलिस ने आरोपी को बैंक के साथ धोखाधड़ी में आरोपी बनाते हुए केस दर्ज किया गया है।

Facebook Comments