ये हैं दुनिया की 6 सबसे अमीर मुस्लिम औरतें.. जिसको चाहे खरीद सकती हैं, दुनिया में चलता है सिक्का

दुनिया की सबसे अमीर मुस्लिम औरतों के पास धन आने की तीन मुख्य वजह हैं। किसी अमीर आदमी से शादी, माता-पिता से मिली विरासत और अपनी कोशिशों से अर्जित संपत्ति इन वजहों में शामिल हैं। आज हम आपको कुछ ऐसी ही हस्तियों के बारे में बताने जा रहे हैं।

प्रिंसेस अमीरा अल तवील, सऊदी अरब
6 नवंबर 1983 को जन्मीं प्रिंसेस अमीरा सऊदी प्रिंस अल वालिद बिन तलाल की पत्नी हैं। 58 साल के प्रिंस अल वालिद दुनिया के 26वें सबसे अमीर शख्स हैं।

महारानी रानिया, जॉर्डन
जॉर्डन के राजा अब्दुल्लाह इल इब्न अल-हुसैन की पत्नी रानिया 31 अगस्त 1970 को जन्मी थीं। 1999 में उनके पति को गद्दी मिली।


प्रिंसेस मजीदा नूरुल बोलकिया, ब्रुनई
प्रिंसेस मजीदा सुल्तान हसलनल बोलकिया की दूसरी बेटी हैं। वह 16 मार्च 1976 को जन्मीं। 2007 में उन्होंने खैरुल खलील से शादी की। खलील भी राज परिवार से हैं और प्रधानमंत्री के दफ्तर में काम भी कर चुके हैं।

प्रिंसेस हाजा हफीजा सुरूरूल बोलकिया
ब्रुनई के सुल्तान हसनल बोलकिया की चौथी बेटी प्रिंसेस हफीजा 12 मार्च 1980 को जन्मीं। उनके पिता दुनिया के सबसे अमीर लोगों में से हैं। उनके पास कुल 7,000 कार हैं। उनके महल में 1,700 कमरे हैं।

सुल्ताना नूर जाहिरा, मलेशिया
राजा वाथिकू बिलाह तुआंकू मिजान जैनल आबिदीन की पत्नी सुल्ताना 7 दिसंबर 1973 को जन्मीं। वह खुद भी एक अमीर परिवार से हैं। उनके पिता से उन्हें करीब 15 अरब डॉलर विरासत में मिले।

शेखा मैथा बिंत मोहम्मद बिन राशिद अल मकतूम, दुबई
एशियन गेम्स 2006 की इस तस्वीर में दायीं ओर दिख रहीं मैथा की पैदाइश 5 मार्च 1980 की है। उनके पिता शेख मोहम्मद बिन राशिद अल मक्तूम यूएई के प्रधानमंत्री और फिर उपराष्ट्रपति रहे। वह दुबई के अमीर हैं। कराटे चैंपियन मैथा ने 2006 के गेम्स में सिल्वर जीता था।

Facebook Comments