पिछले 6 महीने से नहीं आया कोई सफाई कर्मी, ऐसे हो रहा है UP का विकास

सरकार की महत्वाकांक्षी योजनाएं ग्रामीण क्षेत्र के विकास को लेकर भले ही तत्पर हों,पर ग्राम पंचायत में जिम्मेदारों की शिथिलता सर चढ़कर बोल रही है यदि विकास हुए भी तो मानक के अनुसार न होने से उसकी सार्थकता सिद्ध नहीं हो पा रही है योगी सरकार की मंशा है कि सभी ग्राम प्रधान अपने अपने ग्राम सभाओं में सम्रग विकास के लिए योजना तैयार करे जिससे सूबे के ग्रामीण क्षेत्रो में विकास से सूबे की अच्छी छवि उभर कर आये  लेकिन इसके उलट सूबे के जनपद बाराबंकी के चौकिया ग्राम सभा क़ी कहानी और कुछ और ही है।

नारकीय जीवन जीने को मजबूर चौकौरा वासी
बाराबंकी जनपद के तहसील हैदरगढ़ अंर्तगत गाँव चकौरा में ग्रामीणों का कहना है कि वर्षो बीत गए गांवों में नाली बने व खड़ंजा लगे वर्तमान में सभी उखड़ कर टूट गए इन कार्यों की मरम्मत आज तक नहीं हुई वहीं नालियां जाम होकर दुर्गन्ध फैला रही हैं बच्चे,बूढ़े बीमार हो रहे हैं शुद्ध पेयजल तक नसीब नहीं हो रहा है सफाई कर्मी 6-6 माह तक नहीं दिखते ग्रामीणों का कहना है कि गांव में कई वर्ष हो गए नाली खड़ंजा लगे, लेकिन उसकी अब तक मरम्मत नहीं हुई प्रधान पर कोई फर्क नहीं पड़ रहा है।

सिर्फ अपना लाभ देखते है ग्राम प्रधान
नाम न छापने की शर्त पर एक ग्रामीण ने बताया कि गांव वालों की कोई सुनता नहीं नालियां टूटी व पटी पड़ी है दूषित जल सड़क पर बह रहा हैं जिससे लोगों को आने जाने में काफी परेशानी हो रही है बच्चे संक्रमित होकर बीमार पड़ रहे हैं सफाईकर्मी का कोई अता-पता नहीं रहता गांव में विकास का ध्यान कोई नही दे रहा है बच्चे और बूढ़े गंदे पानी में घुस कर आ जा रहे हैं बड़कऊ का कहना है कि हर बार चुनाव में प्रधान पद के प्रत्याशी मीठी-मीठी बातें कर वोटरों को लुभाते हैं वोट लेकर जीतने के बाद हर काम के लिये दौड़ाते हैं गरीब लोग कहा जाये प्रधान पहले अपना लाभ देखते हैं।

नाली खड़ंजा हमारे कार्ययोजना का हिस्सा नही
जब हमने ग्राम सभा चौकिया के ग्राम प्रधान इंद्रजीत से बात तो उन्होंने बताया कि गाँव की बदहाल हुई नाली खड़ंजा हमारे कार्य योजना में शामिल नही है हम दो तीन साल तक इसका काम नही कर पाएंगे हा हम रोड की सफाई जरूर करवा देंगे।

ग्राम प्रधान के पास होते है प्रशासनिक एवं वित्तीय अधिकार
ग्राम सभाएं विकास की महत्वपूर्ण कड़ी हैं और ग्राम प्रधान के पास काफी प्रशासनिक एवं वित्तीय अधिकार हैं जिसको इसको व्यक्तिगत हितों से उठ ऊपर उठकर विकास कार्य के लिए उपयोग करना होगा योगी सरकार चाहती है कि प्रधान गांव के संबंध विकास का मॉडल तैयार कराएं।

वही जब उपजिलाधिकारी हैदरगढ़ सन्तोष कुमार से बात की गयी तो उन्होंने कहा कि ग्राम प्रधान जन प्रतिनिधि होता है ग्राम पंचायत के विकास में ग्राम प्रधान का अहम रोल है उक्त ग्राम सभा की समस्याओं को जल्द दूर करने का प्रयास किया जायेगा।

Facebook Comments