OMG: 40000 हजार लोगों की हड्डियों से बना है ये चर्च

इस दुनिया में बहुत से ऐसे Church हैं जो की अपनी खूबसूरती की वजह से जानें जाते हैं। पर दुनिया में एक ऐसा भी Church है जो की अपनी अनोखी खूबसूरती की वजह से जाना जाता है।
असल में इस चर्च की खूबसूरती बनाने के लिए फूलों, लाइट या अन्य चीजों का प्रयोग नहीं किया गया है, बल्कि इसमें मानव की हड्डियों का प्रयोग हुआ है। यह विश्व का पहला चर्च है जो की मानव हड्डियों द्वारा सजा हुआ है। आइये जानते हैं इस चर्च के बारे में।

यह चर्च चेक गणराज्य में स्थित है, करीब 40000 हजार लोगों की हड्डियों से इस चर्च को बनाया गया है। इस चर्च में हड्डियों को लगाने के पीछे एक दिलचस्प इतिहास है। असल में 13वीं शताब्दी में यहां से सन्त हेनरी, पवित्र भूमि “पलेस्टीना” को गए थे और जब वह वहां से लौटे तो वे वहां की कुछ मिट्टी अपने साथ में ही ले आये।

यह मिट्टी उस जगह की थी जहां पर प्रभु ईसा को सलीव पर लटकाया गया था। इस मिट्टी को संत हेनरी ने यहां लाकर एक कब्रिस्तान के ऊपर डाल दिया और इसके बाद में यह कब्रिस्तान लोगों के दफन होने का प्रिय स्थल बन गया।

14वीं और 15वीं शताब्दी में यहां पर युद्धों तथा प्लेग की वजह से बड़ी संख्या में लोग मारे गए थे, जिसकी वजह से यहां के कब्रिस्तान में जगह ही नहीं बची थी। उस समय एक ऑस्युअरी बनाने का ख्याल लोगों ने किया। ऑस्युअरी बनने के बाद में यहां के संत लोगों की हड्डियों को निकाल कर चर्च में रख देते थे।

1870 में इस चर्च को करीब 40000 हजार लोगों की हड्डियों से सजाया गया था जिसके बाद में यह चर्च अपने आप लोगों में प्रसिद्ध हो गया। वर्तमान में हर देश से लोग इसको देखने आते हैं और इस चर्च को “द चर्च ऑफ बोन्स” के नाम से जाना जाता है।

Facebook Comments