बिगड़ा मौसम का मिजाज,आंधी तूफान की आशंका…

गृह मंत्रालय ने पश्चिम बंगाल, ओडिशा, बिहार और यूपी के लिए चेतावनी जारी की है। वहीं, उत्तर प्रदेश के पश्चिमी हिस्सों में आज आंधी तूफान की आशंका है।

बुधवार को आए आंधी तूफान में प्रदेश में 75 लोगों की मौत हो गयी थी।  आगरा में बुधवार को तूफान आने से एक ही परिवार के तीनों लोगों की मौत हो गई। बूढ़ी महिला और दो नातियां मलबे में दबने से मर गए।

मौसम विभाग ने अगले 26 घंटे में फिर से तूफान और बवंडर आने की चेतावनी जारी की है। विभिन्न राज्यों में अब तक तूफान की चपेट में आने से करीब 100 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि काफी संख्या में लोग घायल हुए हैं।

मौसम विभाग के एक प्रवक्ता ने बताया कि शनिवार को सहारनपुर, मुजफ्फरनगर, बिजनौर, बागपत और मेरठ में आंधी तूफान आने की आशंका है। मौसम के अचानक बदल जाने के पीछे वैज्ञानिकों का कहना है कि तूफान वेदर सिस्टम के दुर्लभ मेल की वजह से आया है, जो अमूमन आने वाले तूफानों के पैटर्न से अलग रहा है।

इससे पहले, वेस्टर्न डिस्टरबेंस से राजस्थान, पंजाब व हरियाणा के ऊपर चक्रवात बना। इससे गरजने वाले बादल बने, जो यूपी होते हुए बिहार पहुंचे और बंगाल की खाड़ी, उत्तरी पाक और जम्मू कश्मीर से आ रही नमी इस चक्रवात को मिली।

तापमान ज्यादा होने की वजह से कुछ ही घंटों में तूफान जैसा माहौल बन गया। मालूम हो कि ऐसा सूखे इलाकों में अक्सर होता है कि जब 90% तक नमी वाली हवाएं भारी मात्रा में अचानक पहुंच जाती हैं, तो इससे गरज वाले बादल बनने लगते हैं और तूफान जैसी स्थिति पैदा हो जाती है।

उत्तरप्रदेश और राजस्थान में आंधी-तूफान के कारण जनहानि पर दुख प्रकट करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अधिकारियों को राज्यों के साथ समन्वय बनाने और प्रभावितों को तुरंत राहत प्रदान किया जाना सुनिश्चित करने को कहा था।

 

Facebook Comments