इस राज्य से टकराया तूफान, तेज हवाओं में उड़ती दिखी चारपाई…..

तूफान की आशंका ने इस समय देश के 18 राज्यों में रहने वालों लोगों के दिलों में दहशत फैला रखी है। तेज आंधी और ओलों से बचने के लिए लोग सुरक्षित स्थान की तलाश करते नजर आए।

इस बीच मौसम विभाग के अलर्ट के बाद यूपी से ये तूफान टकरा गया है। उत्तर प्रदेश के टूंडला में कुछ देर पहले भयंकर ढंग से तूफानी हवाएं चलती दिखी। यहां लोगों के छतों पर रखी खाट (चारपाई) भी हवा में उड़ गई।

तूफानी हवाएं चलते ही लोग सुरक्षित स्थान की ओर दौड़ लिए। इस दौरान लोग घरों से बाहर निकल आए। आंधी में दीवार गिरने से दो बकरियों की मौत हो गई। वहीं एटा रोड पर पेड टूटने से यातायात बाधित हो गया। मौसम विभाग ने तीन दिन तक तूफान आने की घोषणा की थी। लोगों के दिलों में तूफान को लेकर भय व्याप्त हो गया।

टूंडला में रविवार शाम करीब चार बजे तेज आंधी के साथ ओले और बारिश शुरू हो गई। तूफान आने की आशंका पर लोग घरों से बाहर निकल आए। हर कोई सुरक्षित स्थान की ओर दौड़ने लगा। तेज आंधी में थाना नगला सिंघी क्षेत्र के गांव घुरकुआ निवासी विजय कुमार की दीवार गिर गई। जिसके नीचे दबकर दो बकरियों की मौत हो गई। वहीं रसूलाबाद निवासी भोजराज की टीनशेड उड गई।

एटा रोड निवासी भाजपा ब्रज क्षेत्र के संयोजक उदय प्रताप सिंह का ओले लगने से घर का कांच टूट गया। एटा रोड पेड़ टूटकर सड़क पर गिर जाने के कारण यातायात बाधित हो गया। गनीमत रही कि पेड़ गिरने के दौरान वहां कोई वाहन नहीं था। अन्यथा गंभीर हादसा हो सकता था। इस दौरान कई बिजलीके पोल टूटकर गिर गए। लोग तूफान आने की आशंका जता रहे थे। आंधी थमने के बाद लोगों ने राहत की सांस ली। लोगों का कहना था कि धूल भरी आंधी के बाद ओले और तेज आंधी आ गई थी। जिसे देखकर हर कोई तूफान आने की बात कह रहा था।

फिरोजाबाद शहर के मथुरा नगर में जब लोग सुरक्षित स्थान की खोज कर रहे थे। तभी तेज आंधी में एक चारपाई हवा में उड़ गई और उड़कर 11 हजार की लाइन के तारों पर लटक गई। आंधी में भी चारपाई तारों पर झूलती रही। इस नजारे को देखकर मौके पर आस-पास के लोगों की भीड़ जमा हो गई। यह दृश्य लोगों के लिए कौतूहल बन गया।

 

Facebook Comments