रामलीला मैदान तक मार्च निकालेंगे किसान…आज 26 किलोमीटर पदयात्रा… ट्रैफिक पर पड़ सकता है असर

एक बार फिर राष्ट्रीय राजधानी Delhi में हजारों की तदाद में किसान आंदोलन करने जा रहे हैं। यह आंदोलन 29 नवंबर और 30 नवंबर को होगा, जिसकी वजह से Delhi पुलिस ने एडवाइजरी जारी की है। वहीं इस वक्त किसान दिल्ली हरियाणा के बॅार्ड पर बिजवासन के इलाके के पास ठहरे हुए हैं और आज सुबह  9 बजे  यहां से निकलकर 26 किलोमीटर की पदयात्रा के बाद शाम पांच बजे रामलील मैदान  पहुंचेंगे।

बता दें, किसानों की सरकार से मांग है कि उन्हें कर्ज से पूरी तरह से मुक्त कर दिया जाए और फसलों की लागत का डेढ़ गुना मुआवजा दिया जाए। साथ ही अखिल भारतीय किसान संघर्ष समिति के बैनर तले इक्ट्ठा हुए किसान चाहते हैं कि एमएस स्वामीनाथन कमीशन की रिपोर्ट को पूरी तरह से लागू किया जाए।  फिलहाल पुलिस ने एडवाइजरी जारी कर दी है और किसान आंदोलन को देखते हुए सुरक्षा के कड़े इतंजाम किए गए है। हालांकि रामलीला मैदान की तरफ जाने वाले ट्रैफिक पर असर पड़ने की उम्मीद है।

 

जानकारी के लिए आपको बता दें, इसके पहले 23 सिंतबर को हजारों की संख्या में किसान अपनी मांगों को लेकर राजधानी दिल्ली पहुंचे थे, लेकिन उस दौरान Delhi-यूपी के बॅार्डर पर किसान और पुलिस के बीच तीखी झड़प हुई थी। वहीं पुलिस ने आंसू गैस और पानी की बौझारों का भी प्रयोग किया था, लेकिन बाद में किसानों को दिल्ली में घुसने की इजाजत दिल्ली पुलिस ने दे दी। इसके बाद हजारों की तदाद में किसान Delhi के किसान घाट पहुंचे और चौधरी चरण सिंह की समाधी पर फूल चढ़ाकर किसान क्रांति यात्रा को समाप्त कर दिया था।हालांकि पिछले आंदोलन की तुलना में इस बार दिल्ली पहुंचे किसानों का आंदोलन काफी हद तक अलग नजर आ रहा है। एक तरफ जहां किसानों की तदाद कम है तो वहीं इस बार किसान पिछली बार की तरफ सड़क पर ठहरने की बजाए सामुदायिक भवन में ठहरे हुए हैं।

Facebook Comments