TTE ने बिना टिकट के सफर कर रही लड़की के साथ की कुछ ऐसी हरकत…

रेल को भारतीय परिवहन व्यवस्था की रीढ़ माना जाता है। करोड़ो लोग हर रोज़ भारतीय रेल के सहारे आना जाना करते हैं। कभी कभी ट्रेन में अप्रिय घटना भी देखने को मिलती है। कुछ ऐसी ही घटना पिछले दिनों दिल्ली से वाराणसी जाने वाली काशी विश्वनाथ एक्सप्रेस में घटने की बात सामने आई है।

रिपोर्ट के अनुसार पिछले दिनों एक लड़की बिना टिकट लिए ट्रेन में सफर कर रही थी। रूटीन चेकिंग के दौरान एक टिकट चेकर ने उस लड़की को बिना टिकट के पकड़ लिया।

लड़की को पकड़ने के बाद TTE ने उस लड़की के साथ कुछ ऐसा किया जो बहुत ही शर्मनाक एवं लड़कियों की सुरक्षा पर सवाल उठाने वाला हैं । लड़की को बिना टिकट पकड़ने के बाद TTE के मन में खोट उतपन्न हो गया और उसने लड़की की इस मजबूरी का फायदा उठाना चाह। इसी सोच के तहत उस TTE ने उस बिना टिकट के सफर कर रही लड़की को AC बॉगी में सीट पर बैठा दिया और हिदायत दि के अगर कोई पूछे तो खुद को TTE रवि कुमार मीणा की गर्ल फ्रेंड बता देना।

लड़की के दिए बयान के मुताबिक, उसे बिना टिकट पकड़ने वाले TTE ने उसे गर्ल फ्रेंड बनने की पेशकश की एवं की अन्य तरह के प्रलोभन दिए।

TTE की ये प्रलोभन सुन कर लड़की लालच में न आते हुए होशियारी दिखाई और उसमे इस बात का विरोध किया इतना ही नही उसने इस बात की शिकायत GRP से कर दी। GRP ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए तत्काल कार्यवाही करते हुए आरोपित TTE को गिरफ्तार कर लिया।

इस घटनाक्रम पर GRP ने बयान जारी करते हुए कहा है की , छात्रा बिना टिकट ट्रेन में बैठी थी और उसने टीटीई से सीट के लिए मदद मांगी। TTE उस लड़की को एसी कोच में सीट दिला दिया उसके बाद वह उसका फायदा उठाना चाहता था। लेकिन लड़की के साथ घटी इस घटना को अन्य महिला जो साथ में सफर कर रही थी,गंभीरता से लेते हुए GRP के एक जवान से शिकायत कर दी जो उस समय उक्त ट्रेन में ही ड्यूटी पर था। महिला कि शिकायत पर जीआरपी ने टीटीई रवि कुमार मीणा को गिरफ्तार कर लिया।

गिरफ्तार जवान के बारे में एक और चौकाने वाला खुलासा हुआ है। खुलासा यह है की टीटीई पर पहले से ही बलात्कार का आरोप है। उसे साल 2016 में बलात्कर की कोशिश के मामले में जेल की सजा मिली है । इस मामले में आरोपी TTE ने 16 महीने जेल में भी गुज़ारे हैं। इतने गंभीर आरोप के बाद भी वह ट्रेन में टीटीई कि नौकरी कर रहा था यह बात हैरान करने वाली है और रेलवे के सुरक्षा के प्रति नीतियों की पोल खोलती है।

आपको बता दें की ,पीड़ित छात्रा दिल्ली यूनिवर्सिटी में BSc द्वितीय वर्ष में पढ़ती है। लड़की वाराणसी कि रहने वाली है और दिल्ली से वापस अपने घर जा रही थी। लड़की ने बताया कि वह किसी कारण वश टिकट नही ले पाई थीं।

Facebook Comments