घर में तुलसी के पौधे के साथ एक चीज जरूर रखें,बनेंगें बिगड़े काम….

मित्रों तुलसी का पौधा घर में है तो उसके साथ शालिग्राम को जरूर रखें वरना बुरा समय आपको घेर सकता है। श्री विष्णु का पूजन विशेष पत्र के रूप में भी होता है जिसे शालिग्राम कहा जाता है। यह काले रंग का पत्थर होता है जिसे भगवान विष्णु का साक्षात स्वरूप माना जाता है। शालिग्राम के पत्थर नेपाल में बहने वाली गंडकी नदी में पाए जाते हैं।

गंडकी नदी को तुलसी का ही रूप माना जाता है शालिग्राम पूजन करने से अगले पिछले सभी जन्मों के पाप नष्ट हो जाते हैं। पुराणों में तो यहां तक कहा गया है कि जिस घर में भगवान शालिग्राम हो समस्त तीर्थों से भी श्रेष्ठ है पूजन से समस्त रोगों का सुख मिलता है। भगवान शिव ने भी महात्मा में भगवान श्री राम की स्तुति की थी।

ब्रह्मवैवर्तपुराण कहता है कि जिस घर में पैसों की समस्या या परेशानी बनी रहती हो यदि वहाँ अपने घर में तुलसी के पौधे के नीचे रखकर पूजा करें, भगवान विष्णु माता लक्ष्मी का वास होता है। ऐसे घर में कभी भी पैसे संबंधित कोई समस्या नहीं रहती है । यह भी लिखा है कि शालिग्राम शिला का जो लगता है वह संपूर्ण तीर्थ में स्नान कर लेता है।

जो इसका अभिषेक करता है तथा पृथ्वी की प्रदक्षिणा के उत्तम फल का अधिकारी बन जाता है। मृत्यु काल में इनके चरणामृत का जल आपन करने वाला सभी पापों से मुक्ति पा लेता है तथा विष्णु लोग को चला जाता है।

जिस घर में शालिग्राम का नित्य पूजन होता है उसमें वास्तु और बाधाएं अपने आप खत्म हो जाती है। पुराणों के अनुसार तुलसीदास पुराण के अनुसार श्री राम जी का तुलसीदास चरित्र पीने से भयंकर से भयंकर विश का तुरंत नाश हो जाता है।

Facebook Comments