पत्नी का थप्पड़ मारना आत्महत्या के लिए उकसावा नहीं: दिल्ली हाईकोर्ट

दिल्ली हाईकोर्ट ने कहा है कि पत्नी द्वारा दूसरे लोगों के सामने अपने पति को थप्पड़ मारने को आत्महत्या के लिए उकसावा नहीं माना जा सकता है। दरअसल, दूसरे लोगों के सामने थप्पड़ मारकर पति को आत्महत्या के लिए उकसाने के आरोप से एक पत्नी को दोषमुक्त करार देते हुए कोर्ट ने यह निर्णय सुनाया।
Facebook Comments