उन्नाव रेप में आरोपी ने सीबीआई के चंगुल से बचाने के लिए एक करोड़ रूपए की मांग की ……

उन्नाव रेप केस में  बताया जा रहा है कि ये दोनों आरोपी कभी सीबीआई अधिकारी तो कभी पुलिसवाला बनकर विधायक की पत्नी से पैसे की डिमांड कर रहे थे. विधायक की पत्नी संगीता ने इसकी सूचना गाजीपुर पुलिस को दी थी जिसके बाद पुलिस ने इस मामले में कार्यवाही करते हुए दो आरोपियों को अपने कब्जे में ले लिए.

पुलिस के मुताबिक विधायक कुलदीप सिंह सेंगर की पत्नी संगीता सिंह के पास 5 मई को पहली कॉल आई थी. कॉल करने वाले ने खुद को बीजेपी नेता बताकर एक करोड़ रुपये में सीबीआई से डील करवाकर विधायक को बचाने का आश्वासन दिया था. बता दें कि संगीता खुद भी बीजेपी से जिला पंचायत अध्यक्ष है. पैसे की डिमांड किये जाने के बाद संगीता ने इस बात का जिक्र घर पर किया. संगीता के मुताबिक़ आरोपियों ने केस फाइनल कराने के लिए एडवांस 50 लाख और बाकी रकम केस फाइनल होने के बाद देने को कहा था.

इसके बाद संगीता ने 9 मई को गाजीपुर थाने में मामला दर्ज कराया. जिन दो नंबरों से संगीता के पास कॉल आई थी, पुलिस ने उन्हें ट्रेस किया और आरोपियों की लोकेशन का पता लगा लिया. इस मामले में इंस्पेक्टर गाजीपुर सुजीत राय ने बताया कि, ‘कॉल करने वाले गोसाईंगंज निवासी आलोक द्विवेदी और चिनहट निवासी विजय रावत को गिरफ्तार कर लिया गया है.’ पुलिस के अनुसार दोनों युवकों ने पैसा कमाने के लिए साजिस रची थी.

Facebook Comments