ऐसे करें उपचार यूट्रस में गांठ होने पर….

लगातार गलत खानपान और बिजी लाइफस्टाइल के कारण ज्यादातर महिलाएं किसी ना किसी सेहत संबंधी समस्या से परेशान रहती हैं. कभी-कभी कुछ महिलाओं की यूट्रस में गांठे हो जाती हैं, जिन्हें रसौली कहा जाता है. रसौली  मांसपेशियां और फाइबर ऊतकों से बनती हैं.

गर्भाशय में रसौली होने से बांझपन का खतरा हो सकता है. वैसे तो इस समस्या की चपेट में किसी भी उम्र की महिला आ सकती है. पर ज्यादातर यह समस्या 30 से 50 साल की महिलाओं को होती है. आज हम आपको कुछ ऐसे घरेलू नुस्खे बताने जा रहे हैं जिनके इस्तेमाल से आप यूट्रस  की गांठ की समस्या से छुटकारा पा सकते हैं.

1- अगर आप रोजाना ग्रीन टी का सेवन करती हैं तो इससे आपकी यूट्रस की गांठ दूर हो जाती है. ग्रीन टी में भरपूर मात्रा में एपीगैलोकैटेचिन गेलाइट्स मौजूद होते हैं. जो  रसौली की कोशिकाओं को बढ़ने से रोकते हैं. नियमित रूप से दिन में दो से तीन कप ग्रीन टी का सेवन करने से रसौली की समस्या दूर हो जाती है.

2- हल्दी में भरपूर मात्रा में एंटी इंफ्लेमेटरी और एंटीबायोटिक गुण मौजूद होते हैं. हल्दी का सेवन करने से शरीर में मौजूद विषाक्त पदार्थ बाहर निकल जाते हैं. हल्दी गर्भाशय की रसौली की ग्रोथ को रोककर कैंसर के खतरे को कम करती है.

3- रोजाना एक चम्मच आंवला पाउडर में एक चम्मच शहद मिलाकर खाली पेट में खाएं.

Facebook Comments