मंडी में सस्ती कीमत सुनकर क्रेताओं में खास दिखा उत्साह….

मंडी में सस्ती कीमत सुनकर क्रेताओं में खासा उत्साह दिखा। खासकर उन गृहिणियों को जिनकी आंखों में पिछले महीने प्याज ने आंसू भर दिए थे। प्याज के भाव में हुई गिरावट का ही असर था कि नियमित तौर पर एकाध किलो की खरीद करने वाले खरीदार चार से पांच किलो प्याज खरीदते नजर आए

जहां सब्जियों की कीमत आम लोगों का बजट बिगाड़ रही थी वहीं अब कोयम्बेड सब्जी बाजार में इनकी भारी आवक की वजह से आम क्रेताओं को भारी राहत मिली है। सब्जियों के बढ़ेे भाव सुनकर जहां खरीदार पहले
मायूस हो जाते थे वहीं रविवार को उनके चेहरे खिले नजर आए।।

ऐसा नहीं था कि सिर्फ प्याज ही सस्ते हुए। कीमतों में गिरावट सदाबहार सब्जियां आलू और टमाटर में भी दिखी। मंडी में जहां टमाटर १० रुपए किलो बिके तो आलू की कीमत १६ रुपए किलो थी। हरी सब्जियों के भाव भी पिछले महीने की तुलना में कम थे। मसलन बैगन, बंदगोभी, लौकी भी महज १० रुपए प्रतिकिलो बिकी जिसे ग्राहकों ने हाथों-हाथ खरीद लिया।

सब्जी भाव प्रतिकिलो
आलू नया १८
आलू पुराना १६
टमाटर १०
प्याज (सांबर) २५
प्याज १२
बींस २०
सेमफली २०
मटर ४५
गाजर १३
मूली ०८
करेला १५
बैंगन १०
फूलगोभी २०
बंदगोभी १०
भिंडी १५
बीटरूट ०६
खीरा २०
धनिया कट्टी ०५
पुदीना कट्टी ०३

-कस्टमर स्पीक…
भगवान करे हमेशा ऐसा हो
-हमारे लिए आज शुभ दिन है, पहले तो आलू और बंदगोभी ही ज्यादा खरीदा करते थे, लेकिन आज सभी हरी सब्जियां सस्ती थी। बाजार का कीमत स्तर ऐसा ही रहे।
श्याम सिंह, लेबर कांट्रेक्टर
अंबत्तूर, निवासी।

सस्ता प्याज जायका लाएगा
पिछले कुछ महीने तक प्याज खरीदने से पहले बजट देखना पड़ता था, लेकिन अब प्याज के भाव कम हो गए हैं।
रजनीबाला, शिक्षिका
अण्णानगर ।
—-
आवक से भाव घटे
पिछले सप्ताह से सब्जियों की आवक बढ़ी है। प्रतिदिन सैकड़ों ट्रक से आवक हो रही है जबकि इसकी खपत कम है। आगामी मई तक सब्जियों के भाव ऐसे ही रहने की उम्मीद है।

Facebook Comments