मुख्य आरोपी विजय ठाकुर को अब 15 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज…..

बता दे कि अब कसौली कार्यालय में दो जेई, एक क्लर्क तथा ड्राफ्टसमैन ड्यूटी पर सुरक्षा घेरे में अब काम कर रहे हैं. मिली जानकारी के मुताबिक, अभी भी भारी सुरक्षा के बीच कसौली में अवैध निर्माणों को हटाने का काम तेजी से किया जा रहा हैं. यहां 80 फीसदी पुलिस जवान गन के साथ तैनात हैं, साथ ही सुरक्षा कर्मी भी बंदूकों के साथ मौजूद हैं.

 

कसौली गोलीकांड मामले में आज यानी बुधवार को सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई. जिसमे मुख्य आरोपी विजय ठाकुर को अब 15 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया हैं. साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले को लेकर राज्य सरकार को भी जमकर घेरा हैं. राज्य सरकार से कोर्ट ने कई सवाल पूछे हैं. महिला अधिकारी शैलबाला की मौत के बाद से अन्य कर्मचारियों की सुरक्षा बढ़ा दी गई हैं. इसके लिए सोलन टीसीपी कार्यालय व कसौली कार्यालय के बाहर पुलिस के 10-10 जवान तैनात किए गए हैं.

गौरतलब है कि अवैध निर्माण हटाने को लेकर नारायणी गेस्ट हाउस के मालिक विजय ठाकुर ने महिला अधिकारी शैलबाला को गोली मार कर मौत के घाट उतार दिया था. जिसके बाद कसौली स्थित दफ्तर में कोई भी अधिकारी अपनी ड्यूटी पर जाने का साहस नहीं जुटा पा रहा था. इसे देखते हुई कर्मचारियों को सुरक्षा प्रदान की गई. पुलिस ने दफ्तरों के बाहर कर्मचारियों की सुरक्षा के लिए गार्ड तैनात किए हैं.

 

Facebook Comments